कोलकाता: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की कोलकाता की दो दिवसीय यात्रा से कुछ घंटे पहले तृणमूल कांग्रेस के विधायक राजीब बनर्जी ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल विधानसभा से इस्तीफा दे दिया. इससे पहले बनर्जी ने 22 जनवरी को राज्य के वन मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था. बनर्जी हावड़ा डोमजूर विधानसभा क्षेत्र से विधायक थे. उन्होंने विधानसभा में स्पीकर बिमान बनर्जी से मुलाकात की और अपना इस्तीफा दे दिया.Also Read - दिल्ली यूनिवर्सिटी में बोले अमित शाह, 'लोग कहते थे कि अनुच्छेद 370 हटाया तो खून की नदियां बह जाएंगी, लेकिन...'

उन्होंने कहा, “मैं पश्चिम बंगाल विधान सभा के सदस्य के रूप में इस्तीफा दे रहा हूं. पश्चिम बंगाल के लोगों के लिए काम करना मेरे जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि रही है. मैं अपने करीब 10 साल के कार्यकाल को पूरा किया है, जिसके लिए मैं आभारी हूं.” Also Read - परिजनों के साथ घूमने आए युवक ने पश्चिम बंगाल के दीघा में की आत्महत्या

अटकलें लगाई जा रही हैं कि बनर्जी 31 जनवरी को अमित शाह की रैली के दौरान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो सकते हैं. वहीं तृणमूल कांग्रेस के एक अन्य विधायक वैशाली डालमिया शाह की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हो सकते हैं. डालमिया को तृणमूल से निलंबित कर दिया गया था. Also Read - गृह मंत्री शाह ने हाई लेवल बैठक में जम्मू कश्मीर की स्थिति की समीक्षा की

बता दें कि अब गृहमंत्री दो दिन के बंगाल दौरे पर पहुंचने वाले हैं जिसके बाद अब पश्चिम बंगाल में राजनीतिक पारा बढ़ने वाला है.पश्चिम बंगाल में इस साल चुनाव है. इसको लेकर काफी गहमागहमी भी है. इसी के मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह राज्य के दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार रात कोलकाता पहुंच रहे हैं. अमित शाह के इस हाई-प्रोफाइल बंगाल दौरे के दौरान प्रदेश की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और अन्य दलों से कई नेता भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो सकते हैं.

शाह की बंगाल की पिछली यात्रा के दौरान, तृणमूल कांग्रेस नेता और पूर्व राज्य परिवहन मंत्री सुवेंदु अधिकारी 19 दिसंबर को भाजपा में शामिल हो गए थे. शाह शनिवार को नादिया जिले के मायापुर में इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शसनेस (इस्कॉन) का दौरा करने वाले हैं. वह उत्तर 24-परगना के ठाकुरनगर क्षेत्र में एक रैली को भी संबोधित करेंगे. यहां मतुआ समुदाय का वर्चस्व है.

31 जनवरी को शाह कोलकाता में भारत सेवाश्रम संघ का दौरा करेंगे और हावड़ा जिले के डुमुरजला स्टेडियम में रैली करेंगे जहां कई नेताओं के भाजपा में शामिल होने की उम्मीद है.