West Bengal Elections: हाल ही में तृणमूल कांग्रेस छोड़ने वाले पश्चिम बंगाल के पूर्व मंत्री राजीब बनर्जी शनिवार को पार्टी के चार अन्य असंतुष्ट नेताओं और एक अभिनेता के साथ दिल्ली के लिए रवाना हो गए जहां वे भाजपा में शामिल हो सकते हैं. भाजपा के सूत्रों ने यह जानकारी दी.Also Read - UP Election 2022: ग्रेटर नोएडा में अमित शाह का ‘प्रभावी मतदाता संवाद’, कहा- यूपी चुनाव 20 साल के लिए दिशा तय करेंगे

बनर्जी के साथ विधायक प्रबीर घोषाल और बैशाली डालमिया तथा हावड़ा के पूर्व मेयर रतिन चक्रवर्ती एक विशेष विमान से दिल्ली के लिए रवाना हुए जहां वे भाजपा के केंद्रीय नेताओं से मुलाकात करेंगे. घोषाल और डालमिया को हाल ही में तृणमूल कांग्रेस से निष्कासित किया गया है. Also Read - दिल्‍ली में फिलहाल नहीं खुलेंगे स्‍कूल और कॉलेज, ऑनलाइन जारी रहेंगी कक्षाएं

नदिया जिले की राणाघाट पश्चिम विधानसभा से तृणमूल कांग्रेस के पूर्व विधायक पार्थसारथी चट्टोपाध्याय और अभिनेता रुद्रनिल घोष भी उनके साथ हैं.भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय तथा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय भी उनके साथ दिल्ली गए हैं. Also Read - Delhi में कोव‍िड प्रत‍िबंधों में छूट, मॉल, सिनेमा, रेस्‍टोरेंट्स 50 फीसदी की क्षमता से संचाल‍ित होंगे

बनर्जी ने कहा कि उनकी केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बातचीत हुई है जिन्होंने उन्हें राष्ट्रीय राजधानी बुलाया है. उन्होंने एक बांग्ला समाचार चैनल से कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस से मेरे इस्तीफे के बाद मुझे भाजपा नेतृत्व से फोन आया. अमित शाह जी ने मुझे दिल्ली आने को कहा. अगर मुझे राज्य के विकास के संबंध में आश्वासन मिलता है तो मैं पार्टी में शामिल हो जाऊंगा. उन्होंने मुझसे पांच अन्य महत्वपूर्ण हस्तियों को भी अपने साथ चलने की सूचना देने का आग्रह किया जो बेहतर तरीके से लोगों की सेवा करना चाहते हैं.’’

भाजपा में उनकी संभावित भूमिका के संबंध में पूछे जाने पर बनर्जी ने कहा कि यह पार्टी को तय करना है.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं जनता के लिए काम करना चाहता हूं. इसलिए मुझे जो जिम्मेदारी दी जाएगी, मैं उसे स्वीकार करूंगा.’’भाजपा के एक आला नेता ने कहा कि ये लोग आज भाजपा में शामिल हो सकते हैं या फिर आज लौट सकते हैं और रविवार को उन्हें डुमुरजुला स्टेडियम में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में पार्टी में शामिल किया जा सकता है.

भगवा दल के सूत्रों के अनुसार, इन नेताओं को पूर्व में तय कार्यक्रम के अनुसार रविवार को हावड़ा के डुमुरजुला में प्रस्तावित केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रैली में भाजपा में शामिल किया जाना था. हालांकि दिल्ली में इजराइल के दूतावास के बाहर विस्फोट की घटना के बाद शाह का पश्चिम बंगाल का दो दिवसीय दौरा अंतिम समय में रद्द कर दिया गया.

अब कार्यक्रम में शाह की जगह केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पहुंचेंगी.

घटनाक्रम पर तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद एवं पार्टी प्रवक्ता सौगत रॉय ने कहा, ‘‘जो लोग छोड़कर गए हैं, उनका कोई लंबा राजनीतिक इतिहास नहीं है और उनमें से अधिकतर को पार्टी में ममता बनर्जी ने शामिल किया था. भविष्य में तृणमूल कांग्रेस सतर्क रहेगी.’’

तृणमूल कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेता एवं मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने कहा, ‘‘यदि कोई जाना चाहता है तो क्या किया जा सकता है? हम एक बड़ी पार्टी हैं. हम असंतुष्टों को सेना की तैनाती कर नहीं रोक सकते.’’

(इनपुट भाषा)