West Bengal Municipal Elections: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के अब निकाय चुनाव पर लोगों की निगाहें टिकी हुई हैं. जानकारी के मुताबिक यह चुनाव दुर्गा पूजा से पहले ही संपन्न करा लिए जाएंगे. साथ ही चुनाव आयोग द्वारा इस बाबत तैयारियां भी की जा रही है. वहीं चुनाव को लेकर तृणमूल कांग्रेस भी तैयारी में जुट चुकी है. विधानसभा चुनाव के बाद भाजपा के लिए यह फिर से परीक्षा की घड़ी है.Also Read - योगी आदित्यनाथ ने कहा- यूपी में जनसंख्या नियंत्रण कानून 'सही समय' पर आएगा, जो करेंगे नगाड़ा बजाकर करेंगे

गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को जीत मिली थी वहीं भाजपा को मात्र 76 सीटों से संतोष करना पड़ा. ऐसे में विधानसभा चुनाव के बाद टीएमसी निकाय चुनावों में जीत को लेकर आश्वस्त है. पार्टी अपनी तरफ से कोई कमी नहीं रख रही है. बता दें कि कोलकाता नगर निगम सेत कुल 112 निकायो के चुनाव होंगे. कोरोना महामारी के कारण लंबे समय से निकाय चुनाव लंबित हैं. Also Read - BJP विधायक के भाई ने बदमाशों को AK-47 दी, 188 कारतूस भी मिले, बिहार का सियासी पारा चढ़ा

जानकारी के मुताबिक कोरोना की स्थित नियंत्रण में आ रही है. ऐसे में राज्य चुनाव आयोग द्वारा दुर्गा पूजा से पहले इस चुनाव को संपन्न कराया जा सकता है. वहीं राज्य सरकार भी दुर्गा पूजा से पहले चुनाव कराने के पक्ष में है. अधिकारी इस बात पर विचार कर रहे हैं कि कोरोना काल में दो बार में चुनाव कराया जा सकता है या नहीं. वहीं कलकत्ता नगर निगम का चुनाव एक ही दिन में संपन्न कराए जाने पर विचार किया जा रहा है. Also Read - West Bengal News: पश्चिम बंगाल में दिलीप घोष की जगह सुकांता मजूमदार बने BJP प्रदेश अध्यक्ष