West Bengal News Update: पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (TMC) की सत्ता में वापसी के बाद से ही पार्टी छोड़कर भाजपा (BJP West Bengal) में गए नेताओं और कार्यकर्ताओं की वापसी का सिलसिला जारी है. पिछले दिनों भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रहे मुकुल रॉय (Mukul Roy) की टीएमसी में वापसी के बाद इसे और रफ्तार मिली है. पूर्व विधायकों से लेकर जिला स्तरीय नेता, कार्यकर्ताओ में वापसी की होड़ सी मची हैं. इसी क्रम में आज गुरुवार को बीरभूम जिले (Birbhum District) के इलामबाजार ब्लॉक में करीब 150 कार्यकर्ताओं ने भाजपा छोड़ टीएमसी का दामन थाम लिया.Also Read - Asansol By-Election Result Declared: आसनसोल में छाया 'बिहारी बाबू' का जलवा, भाजपा की अग्निमित्र पॉल को दी बड़ी पटखनी

जिले के स्थानीय नेताओं ने सभी कार्यकर्ताओं को टीएमसी में शामिल कराने से पहले सैनिटाइजर से उनका ‘शुद्धिकरण’ किया. एक स्थानीय नेता ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं में ‘बीजेपी का वायरस’ था इसलिए उन्हें सैनिटाइजर से साफ किया गया. इस कार्यक्रम का एएनआई ने एक वीडियो जारी किया है. इसमें टीएमसी में शामिल हो रहे कार्यकर्ताओं के हाथ में पार्टी का झंडा थमाया गया और उन्हें स्प्रे मारकर सैनिटाइज किया गया. Also Read - BJP press conference: प्रेस कॉन्फ्रेंस में TMC पर बिफरे भाजपा प्रवक्ता सम्बित पात्रा, लगाया पश्चिम बंगाल में धमकाने का आरोप | Watch Video

यहां देखें वीडियो- Also Read - Tripura Civic Election Results: त्रिपुरा निकाय चुनाव में BJP चल रही आगे TMC पिछड़ी, LIVE Updates

मालूम हो कि इससे पहले हुगली जिले में करीब 200 भाजपा कार्यकर्ता सिर मुंडवाने और गंगाजल छिड़कवाने केब बाद टीएमसी में शामिल हुए थे. सभी ने कथित तौर पर कहा कि उन्होंने भाजपा में जाकर गलती की थी. इसलिए उन्होंने सिर मुंडवाकर और गंगाजल छिड़कर अपना प्रायश्चित किया. आरामबाग से टीएमसी सांसद अपरूपा पोद्दार ने सभी को पार्टी में शामिल कराया. हालांकि भाजपा का कहना है कि सभी हिंसा के डर से टीएमसी में शामिल हो रहे हैं.