West Bengal Assembly Polls 2021:  पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले TMC प्रमुख ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को एक और झटका लगा है. पश्चिम बर्धमान जिले के पंडावेश्वर से दो बार के TMC विधायक एवं आसनसोल के पूर्व महापौर जितेंद्र तिवारी (Jitendra Tiwary) मंगलवार को भाजपा में शामिल हो गए.Also Read - योगी आदित्यनाथ के राज में अब नए मदरसों को नहीं मिलेगी सरकारी मदद, कैबिनेट बैठक में लिया गया फैसला

तिवारी ने तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व के खिलाफ बगावत की थी, लेकिन भाजपा द्वारा पिछले साल दिसंबर में उन्हें पार्टी में शामिल करने से इनकार करने के बाद वह मायूस हो गए थे. वह हुगली जिले के श्रीरामपुर में एक कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश प्रमुख दिलीप घोष की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हुए. Also Read - कैलाश विजयवर्गीय बोले- ज्ञानवापी मस्जिद विवाद जैसे धार्मिक मसले भाजपा नहीं बल्कि जनता उठा रही है

Also Read - ट्रैफिक जाम में फंसे अफसर ने सफाईकर्मी को मारा थप्पड़, वीडियो वायरल होने पर CM हेमंत सोरेन ने दिया कार्रवाई का आदेश

उन्होंने भाजपा में शामिल होने के बाद कहा, ‘मैं भाजपा में शामिल हुआ हूं क्योंकि मैं राज्य के विकास के लिए काम करना चाहता हूं. तृणमूल कांग्रेस में रहते हुए काम करना संभव नहीं था.’ 294 सदस्यीय राज्य विधानसभा के लिए चुनाव 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में होंगे.

पश्चिम बंगाल चुनाव में 8 चरणों में चुनाव
294 सदस्यीय बंगाल विधानसभा के लिए 8 चरणों में मतदान होंगे. बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल तक वोट डाले जाएंगे. बंगाल में पहले चरण के लिए 27 मार्च को 30 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे. इसके बाद दूसरे चरण की 30 सीटों पर 1 अप्रैल को मतदान होगा. तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे.

चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को वोटिंग होगी. पांचवें चरण की 45 सीटों पर 17 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे. वहीं, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को वोटिंग होगी. बंगाल में आठवें और अंतिम फेज का चुनाव 29 अप्रैल को होगा, जहां 35 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे.

(इनपुट: भाषा)