बीजिंगः चीन में घातक कोरोना वायरस(coronavirus) का कहर इस कदर बढ़ता जा रहा है कि इससे 25 और लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है, जिसके साथ ही इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 132 हो गई है. करीब 6,000 लोगों के इसकी चपेट में आने की भी पुष्टि की गई है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि वायरस संक्रमण अगले 10 दिन में चरम पर पहुंच जाएगा जिसके परिणाम स्वरूप बड़ी संख्या में लोगों की मौत होगी. Also Read - Coronavirus in India Latest Updates: भारत में फिर तेजी से बढ़ने लगा कोरोना, पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 16,752 नए मामले आए सामने; टूटा 30 दिन का रिकॉर्ड

चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि वायरस संक्रमण के 5,974 मामलों की पुष्टि हो गई और वायरस की वजह से होने वाले निमोनिया के 31 नए मामले मंगलवार तक सामने आए थे. सरकारी समाचार एजेंसी ‘शिन्हुआ’ के अनुसार अभी तक कुल 132 लोग इस वायरस के कारण मारे गए हैं. Also Read - Coronavirus: भारत में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर केंद्र और राज्यों ने की चर्चा; महाराष्ट्र ने दो जिलों में लॉकडाउन बढ़ाया

चीन के वुहान से भारतीयों को निकालने के लिए एअर इंडिया का विमान तैयार Also Read - केवल 4 प्रतिशत लाभार्थियों ने ली कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक, 77.66 लाख से अधिक कर्मियों को लग चुका है टीका

उसने कहा कि मंगलवार तक हुबेई प्रांत में कोरोना वायरस के कारण 125 लोगों की मौत हो गई और 3,554 मामलों की पुष्टि हुई थी. एजेंसी ने बताया कि कोरोना वायरस से पीड़ितों लोगों में से 1,239 की हालत गंभीर है और चीन में इसके 9,239 संभावित मामले सामने आए हैं.

कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं. इसके सामान्य प्रभावों के चलते सर्दी-जुकाम होता है लेकिन ‘सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम’ (सार्स) ऐसा कोरोनावायरस है जिसके प्रकोप से 2002-03 में चीन और हांगकांग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई थी.