9/11 Attack: अमेरिका में 9/11 के आतंकी हमले आज भी दुनिया को झकझोर कर रख देते हैं. 9/11 के हमलों को 19 साल गुजर चुके हैं. आज 9/11 त्रासदी की 19वीं बरसी है, लेकिन जब भी 19 साल पहले घटी इस दर्दनाक घटना की तस्वीरें सामने आती हैं, दुनिया की आंखें नम हो जाती हैं. 11 सितंबर 2001 को अल कायदा के आतंकियों (terrorist) ने अमेरिका (America) को हिला कर रख दिया था. न्यूयॉर्क स्थित वर्ल्ड ट्रेड सेंटर (World Trade Centre), पेंटागन (Pentagon) और पेंसिलवेनिया (Pennsylvania) पर क्रमवार हमले में करीब 3 हजार लोगों ने अपनी जान गंवा दी थी.Also Read - Afghanistan: US ने काबुल में ड्रोन हमले को बताया भूल, माना 10 नागरिक मारे गए थे, IS आतंकी नहीं

इस घटना ने लोगों को इस कदर दहशत में डाल दिया था कि लोगों में पाकिस्तानियों को लेकर दहशत पैदा हो गई थी. अमेरिका खून से सराबोर हो चुका था. पलक झपकते ही अमेरिका की पूरी काया पलट गई थी. हर तरफ मातम पसरा था. इस घटना ने सिर्फ अमेरिका ही नहीं, पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया था. जिसने भी 11 सितंबर 2001 को अल कायदा के आतंकियों (terrorist) द्वारा मचाए कोहराम की तस्वीरें देखी सिहर उठा. Also Read - FBI ने 9/11 हमलों पर नए दस्तावेज जारी किए, विमान अपहरणकर्ताओं का सउदी अरब लिंक साफ हुआ

11 सितंबर 2001 को क्या हुआ था
अलकायदा के 19 आतंकियों ने 4 विमानों को हाईजैक कर लिया और एक के बाद एक 4 जगहों पर हमले कर अमेरिका को खून से नहला दिया. अलकायदा के आतंकियों ने अपना सबसे पहला निशाना बनाया वर्ल्ड ट्रेड सेंटर को. आतंकियों द्वारा हाईजैक किया पहला विमान वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के उत्तरी टावर से टकराया, इसके बाद 9 बजकर 3 मिनट पर दक्षिणी टावर को भी आतंकियों ने विमान से उड़ा दिया. Also Read - तालिबान पहले से ही एक क्रूर ग्रुप, नहीं जानते उसका भविष्य क्या है: US चीफ्स ऑफ स्टाफ चेयरमैन

इन दो हमलों को कोई समझ सकता, इसके पहले ही 9 बजकर 47 मिनट पर फिर अमेरिका दहल उठा. इस बार वॉशिंगटन के रक्षा विभाग मुख्यालय पेंटागन पर हमला हुआ और पेंटागन भरभराकर गिर गया. चौथा विमान शेंकविले के खेतों में गिराया गया. इस आतंकी हमले में अमेरिका में 3 हजार के करीब लोगों की मौत हो गई. यह दुनिया के सबसे ताकतवर देश पर हमला था. जो दुनिया के सबसे भीषण आतंकी हमलों में से एक था.