जकार्ता (इंडोनेशिया): इंडोनेशिया के सुदूरवर्ती मालुकु द्वीप में बृहस्पतिवार को आए 6.5 तीव्रता के भूकंप में एक नवजात सहित 23 लोगों की मौत हो गई. वहीं 15,000 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. बृहस्पतिवार को आए भूकंप से कई मकान ध्वस्त हो गए और भूस्खलन की घटनाएं हुई. एक व्यक्ति की मलबे में दबने से मौत हो गई. मरनेवालों में एक नवजात बच्चा भी है. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता एगस विबोवो ने एक बयान में बताया कि भूंकप से 23 लोगों की मौत हो गई है.

विबोवो ने बताया कि करीब 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए और कम से कम 15,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया क्योंकि भूकंप की वजह से इन लोगों के घर क्षतिग्रस्त हो गए. अमेरिकी भूगर्भ सर्वे ने बताया कि भूकंप का केंद्र मालुकु प्रांत के एम्बोन से 37 किलोमीटर पूर्वोत्तर में 29 किलोमीटर की गहराई में था. सुलावेसी के पालू में पिछले साल 7.5 तीव्रता का भूकंप आने और फिर उठी सुनामी से 4,300 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी या वे लापता हो गए थे.

रेडक्रॉस ने बताया कि 60,000 लोग अब तक अस्थायी आवासों में रह रहे हैं. सुमात्रा के तटीय हिस्से में 2004 में आए 9.1 तीव्रता के भूकंप और फिर उठी सुनामी की वजह से इस क्षेत्र में और आसपास करीब 220,000 लोग मारे गए थे. इनमें से 170,000 लोग इंडोनेशिया में मारे गए थे.