इस्तांबुल: तुर्की के इस्तांबुल में लैंडिंग करते वक्त एक विमान रनवे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया और तीन टुकड़ों में बिखर गया. इस दुर्घटना में तीन लोग मारे गए हैं. स्वास्थ मंत्री फहरेटिन कोका ने गुरुवार को यह जानकारी दी. एफे न्यूज ने कोका के हवाले से कहा कि तीन लोगों को आईसीईयू में रखा गया है, जबकि 179 अन्य को मामूली चोटे आई हैं. Also Read - पाकिस्तान को नहीं बचा पाए मलेशिया और तुर्की! आतंकी फंडिंग को लेकर FATF की ग्रे लिस्‍ट में रहेगा पाक

तुर्की के इजमिर प्रांत से इस्तांबुल के सबिहा गोकसेन अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर बुधवार को पेगासस एयरलाइंस का बोइंग 737 विमान उतर रहा था. विमान में छह चालक दल के सदस्यों सहित 177 यात्री सवार थे. ट्रांसपोर्टेशन मिनिस्टर केहित तुरहान ने कहा कि हमें मिली जानकारी के मुताबिक, कड़ी लैंडिंग के बाद विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया. विमान में बैठे ज्यादातर लोग तुर्की के थे, लेकिन स्थानीय मीडिया की मानें तो विमान में कम से कम 22 विदेशी नागरिक भी सवार थे. Also Read - तुर्की राष्ट्रपति एर्दोआन की धमकी! बोले- बात नहीं मानी तो सीरिया में फिर शुरू होगा अभियान

रनवे पर 50 मीटर तक घिसटता चला गया विमान
इस्तांबुल के गवर्नर अली यारलीकाया ने कहा कि विमान रनवे पर 30 से 40 मीटर की ऊंचाई से गिरा और फिसलने के चलते करीब 50 मीटर तक घिसटता चला गया. अंत में वह तीन टुकड़ों में टूट गया. अधिकारियों ने दस साल पुराने विमान के ब्लैक बॉक्स की जांच करने और दुर्घटना का विवरण निर्धारित करने के लिए एक जांच शुरू की है. यह पहली बार नहीं है जब एयरलाइन का कोई विमान इस प्रकार से दुर्घटनाग्रस्त हुआ है. इससे पहले भी एक महीने से भी कम समय पूर्व पेगासस एयरलाइंस बोइंग 737 का एक ओर विमान इसी हवाईअड्डे पर ओवरराइड कर गया था और अब यह दुर्घटना सामने आई है. Also Read - सीरिया में तुर्की के सैन्य अभियान पर चीन और पाकिस्तान में मतभेद, क्या करेंगे इमरान

तुर्की की राजधानी अंकारा से उतरते हुए ट्रैबजोन हवाईअड्डे पर हुई थी ऐसी ही दुर्घटना
सात जनवरी को हुई इस घटना में विमान में सवार यात्री संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के शारजाह के लिए जाने वाले थे. इस दुर्घटना में किसी को कोई चोट नहीं आई थी. तुर्की की राजधानी अंकारा से उतरते हुए ट्रैबजोन हवाईअड्डे पर भी वर्ष 2018 में भी इसी प्रकार की दुर्घटना, इसी प्रकार के एयरक्राफ्ट मॉडल के साथ हुई थी. हवाई जहाज रनवे से आगे निकल गया और नीचे समुद्र में उतरने से कुछ ही दूरी पर एक चट्टान के निचले हिस्से पर जा रुका. इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ.