ढाका: बांग्लादेश की राजधानी ढाका में सोमवार को बूढ़ी गंगा नदी में 100 से अधिक लोगों को ले जा रही एक नौका बड़े
जहाज के टक्कर मारने पर पलट गई, जिसमें कम से कम 32 लोगों की डूबकर मौत हो गई और कई लोग लापता हो गए. Also Read - कोरोना वायरस से संक्रमित हुआ ये बांग्लादेशी बल्लेबाज; खुद को सेल्फ आइसोलेट किया

प्राधिकरण के अधिकारी ने कहा, ‘अब तक 32 लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं। लापता लोगों की तलाश जारी
है।’समाचार चैनलों के अनुसार मृतकों में पांच महिलाएं और दो बच्चे शामिल हैं. मृतकों की पहचान की जा रही है. Also Read - खेलते-खेलते 4 मासूम कार में घुसे, दिल दहलाने वाला अंजाम आया सामने

‘मॉर्निंग बर्ड’ नामक यह नौका मुंशीगंज से ढाका आ रही थी. इस दौरान वह सदरघाट टर्मिनल से लगभग 1,000 यात्रियों को
ला रहे ‘मयूर-2’ जहाज के पीछे से टक्कर मारने पर पलट गई. Also Read - यूपी के प्रतापगढ़ में ट्रक- स्कार्पियो के बीच भयंकर भिड़ंत, बिहार के 9 लोगों की मौत

नौसेना और तटरक्षक गोताखोर अग्निशमन सेवा के बचाव दल में शामिल हो गए हैं, जबकि बांग्लादेश अंतर्देशीय जल परिवहन
प्राधिकरण के एक बचाव जहाज को डूब चुकी मॉर्निगं बर्ड नौका को निकालने के लिए तैनात कर दिया गया है.

बांग्लादेश अंतर्देशीय जल परिवहन प्राधिकरण के एक अधिकारी ने संवाददाताओं से कहा, ‘ऐसा प्रतीत होता है कि दुर्घटना दोनों
चालकों की लापरवाही की वजह से हुई.’ बचावकर्ताओं ने आशंका जताई है कि घटना के समय नौका में कई यात्री फंसे रह गए
होंगे. दुर्घटना पुराने ढाका के श्यामबाजार इलाके में बूढ़ी गंगा नदी में हुई.