मनीला: फिलीपींस में आए चक्रवाती तूफान उस्मान के चलते हुई भारी बारिश और भूस्खलन के चलते मारे जाने वालों की संख्या बढ़ कर 68 हो चुकी है. अभी इस संख्या के और बढ़ने का अनुमान है. फिलीपींस के अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी. ‘नेशनल डिजास्टर रिस्क रिडक्शन एंड मैनेजमेंट काउंसिल’ के मुताबिक, मनीला के बिकोल क्षेत्र में तूफान उस्मान ने शनिवार को दस्तक दी थी. इस तूफानी तबाही में बिकोल क्षेत्र से 57 लोगों के मारे जाने और पूर्वी विसाया क्षेत्र से 11 लोगों के मारे जाने की खबर है. जिसके चलते ये आंकड़ा 68 हो गया है.

बढ़ सकता है आंकड़ा
नागरिक रक्षा अधिकारियों ने इस बारे में जानकारी देते हुए सोमवार को कहा कि अभी मरने वालों की संख्या और बढ़ने की आशंका है. उन्होंने बताया कि इस साइक्लोन में मनीला के दक्षिण-पूर्व के पहाड़ी इलाके के बिकोल क्षेत्र में 57 लोगों की जान गई है जबकि मध्य द्वीप समर में 11 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है. उन्होंने बताया कि इनमे से ज्यादातर मौतें भू-स्खलन और बाढ़ में बहने के कारण हुई है. बिकोल के नागरिक रक्षा विभाग के निदेशक क्लाउडियो यूकोट ने कहा, ‘‘मुझे डर है कि मृतकों की संख्या अभी बढ़ सकती है क्योंकि अभी कई इलाकों से हमें मलबा हटाना है.’’ देश के पूर्वी क्षेत्र में शनिवार को तूफान ‘उस्मान’ ने दस्तक दी थी. हालांकि उससे हवाएं तेज नहीं चलीं लेकिन भारी बारिश के कारण कई इलाकों में भूस्खलन की स्थिति उत्पन्न हो गई. तूफान के कारण 17 लोग लापता बताए जाते हैं तथा 40 हजार से अधिक लोग विस्थापित हुए हैं.

इंडोनेशिया सुनामी: मृतकों की संख्या बढ़ कर 429 हुई, तेज बारिश से राहत-बचाव में रुकावट

बचाव अभियान जारी है
बीबीसी की रिपोर्ट मुताबिक दोनों क्षेत्रों में अभी भी 19 लोग लापता हैं और मृतकों की संख्या में वृद्धि होने के आसार हैं. इस उष्णकटिबंधीय तूफान ने इस इलाके के बुनियादी ढांचे को तबाह कर दिया है  देश भर में 40 हजार से ज्यादा लोग विस्थापित हो चुके हैं. बिकोल सिविल डिफेंस के निदेशक क्लाउडियो युकोट ने कहा कि लोगों ने एहितयात नहीं बरता, क्योंकि वे छुट्टियों पर थे और तूफान आने की चेतावनी भी समय से जारी नहीं हो सकी थी. उन्होंने बताया कि कुल प्रभावित लोगों में से सिर्फ 14,444 लोगों ने देश के मध्य और उत्तरी हिस्सों में बनाए गए आश्रय गृहों में शरण ले रखी है.

इंडोनेशिया त्रासदी: ग्रामीणों की जुबानी सुनामी की भयावह तस्वीरों की कहानी

सेना, पुलिस और अन्य सरकारी एजेंसियों के बचावकर्मी उत्तरी और मध्य फिलीपींस में तलाशी व बचाव अभियान चला रहे हैं. तेज हवाओं और भारी बारिश के अलावा उष्णकटिबंधीय तूफान के चलते प्रभावित इलाकों में बिजली आपूर्ति ठप है. कई घर भूस्खलन की चपेट में आकर नष्ट हो गए और बाढ़ के चलते सड़कों पर आवागमन बाधित है. स्थानीय अधिकारियों ने लूजोन के बिकोल क्षेत्र में स्थित कामारिनेस सुर प्रांत में आपदा स्थिति की घोषणा कर दी है. तूफान उस्मान सोमवार से फिलीपींस से दक्षिण चीन सागर की ओर बढ़ रहा है. (इनपुट एजेंसी)

Year Ender 2018: ‘भारत-अमेरिका’ नई उंचाइयों पर पहुंचे संबंध, ऐतिहासिक रहा ये साल