वेल‍िंगटन:  न्‍यूजीलैंड में गुरुवार-शुक्रवार की दरम्‍यानी रात एक भयंकर तेज भूकंप आया है, जिसने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है. यह 7.4 तीव्रता का भूकंप था, जो जिस्बॉर्न के तट से दूर था, पूरे न्यूजीलैंड में महसूस किया गया. तटीय निवासियों को एहतियात के तौर पर ऊंचे स्‍थानों पर भेजने के लिए कहा गया है. हालांकि, सुनामी से इनकार किया गया है, लेकिन समुद्र की धाराओं में उछाल का अलर्ट जारी किया गया है. Also Read - मैक्सिको में भीषण भूकंप से भय का माहौल, 7.5 की तीव्रता, 4 लोगों की मौत

भूकंप 33 किमी गहराई में था और इसका केंद्र गिसबोर्न के उत्तर-पूर्व में लगभग 700 किमी. यह 12.49 बजे हुआ, लगभग 9000 लोगों की रिपोर्ट में यह महसूस किया गया था. तेज भूकंप के झटके उत्‍तरी द्वीप के पूर्वी तट से लेकर सुदूर डुनेडिन तक महसूस किए गए. Also Read - भूकंप ने मिजोरम को हिलाया, सामने आईं भयावह फोटो, PM मोदी ने दिया मदद का भरोसा

अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण (यूएसजीएस) के अनुसार, क्रेमैडेक द्वीप के दक्षिण में लगभग 33 किलोमीटर की गहराई पर भूकंप आया. न्यूजीलैंड की नेशनल इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी ने भी चेतावनी जारी की है कि तटवर्ती इलाके तट पर मजबूत और असामान्य धाराओं और अप्रत्याशित उछाल का अनुभव कर सकते हैं. नेशनल इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी ने ट्वीट किया, “न्यूज़ीलैंड के भूकंप के M7.4 SOUTH के बाद न्यूजीलैंड के लिए कोई सुनामी का खतरा नहीं है. वर्तमान जानकारी के आधार पर, प्रारंभिक आकलन है कि भूकंप है. सुनामी आने की संभावना नहीं है, जो न्यूजीलैंड के लिए खतरा पैदा करेगा.

नेशनल इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी के ट्वीट में कहा गया है,” न्यूजीलैंड के तटीय क्षेत्र तट पर मजबूत और असामान्य धाराओं और अप्रत्याशित वृद्धि का अनुभव कर सकते हैं। “NZ सिविल डिफेंस ने रिपोर्ट दी थी कि तटीय निवासियों को एहतियात के तौर पर ऊंचे स्‍थानों पर भेजने के लिए कहा गया है. जियोनेट के मुताबिक 9,000 के करीब लोगों ने भूकंप के झटके महसूस किए.