वाशिंगटन: अमेरिका के ओहियो राज्य में एक बार के निकट रविवार को हुई भारी गोलीबारी में शूटर सहित नौ लोगों की मौत हो गई और 16 अन्य लोग घायल हो गए. इससे कुछ घंटे पहले टेक्सास में हुई गोलीबारी में 20 लोगों की मौत हुई थी. बीबीसी के अनुसार, घटना की पहली रिपोर्ट स्थानीय समयानुसार एक बजे आई. यह गोलीबारी डेटन सिटी के ओरेगॉव इलाके में नेड पैपर्स बार के बाहर हुई.

बीबीसी ने डेटन पुलिस डिपार्टमेंट के एक ट्वीट के हवाले से कहा कि जब यह गोलीबारी शुरू हुई तो हमारे अधिकारी आसपास थे और उन्होंने कार्रवाई करते हुए इसे जल्द ही समाप्त कर दिया. नेड पेपर्स के इंस्टाग्राम पेज पर एक नोट में कहा गया कि घटना के बाद स्टाफ कर्मचारी सुरक्षित हैं. सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए फुटेज में लोग भागते दिखाई दे रहे हैं और सड़कों पर गोलीबारी की आवाज सुनाई दे रही है. इसमें यह भी दिख रहा है कि कई शव जमीन पर है और सफेद चादर से ढके हैं. एक प्रत्यक्षदर्शी ने बीबीसी से कहा कि वह पास के एक रैप कार्यक्रम में था, जब उनसे जगह को खाली करने को कहा गया. प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि मैं बहुत हैरान था। हम सब को जल्दी व सुरक्षित निकाला गया। मैंने अपनी गाड़ी ली, मैं आसपास पुलिस और एंबुलेंस को देख पा रहा था. रविवार की रात की घटना एल पासो शहर में शनिवार को सिएलो विस्टा मॉल के करीब वालमार्ट स्टोर में हुई भारी गोलीबारी के घटना के कुछ घंटों के बाद हुई है. शनिवार की घटना में 25 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे.

टेक्सास में बंदूकधारी ने 20 लोगों को मौत के घाट उतारा
बता दें कि गोलीबारी की घटनाओं के बीच शनिवार को टेक्सास में एक बंदूकधारी ने 20 लोगों को मौत के घाट उतार दिया और कई अन्य को घायल कर दिया. असॉल्ट राइफल से लैस 21 वर्षीय बंदूकधारी ने टेक्सास के दक्षिणी नगर अल पासो में वॉलमार्ट के एक स्टोर में खरीदारी कर रहे लोगों पर अंधाधुंध गोलियां बरसानी शुरू कर दी. अल पासो के पुलिस प्रमुख ग्रेग एलन ने कहा कि घायलों एवं मृतकों में सभी आयु वर्ग के लोग शामिल हैं. उन्होंने कहा कि कहने की जरूरत नहीं है यह स्थिति बहुत भयावह है. शनिवार की सुबह कई मिनट तक भीड़-भाड़ से भरा वॉलमार्ट का स्टोर गोलियों की आवाज और उससे निकलने वाले धुएं से भरा रहा. स्टोर के कर्मचारी और ग्राहक जिनमें से कुछ खून से लथपथ थे, दरवाजों से बाहर की ओर भागे. कुछ गलियारे में इधर उधर दुबक गए. फोन कैमरों से बनाए गए वीडियो में स्टोर के पार्किंग वाले इलाके में कई शव बिखरे नजर आ रहे हैं. टेक्सास के गवर्नर ग्रेग अबोट ने कहा कि गोलीबारी में 20 लोग मारे गए और 26 अन्य घायल हो गए. अबोट ने कहा कि टेक्सास अल पासो के लोगों के लिए दुखी है. उन्होंने कहा कि वह दिन जो आराम से खरीददारी करने के लिहाज से सबके लिए एक सामान्य दिन होता, टेक्सास के इतिहास के सबसे भयावह दिनों में से एक बन गया.

ट्रम्प ने इसे कायरतापूर्ण कृत्य बताया
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इसे कायरतापूर्ण कृत्य बता कर इसकी निंदा की है और कहा है कि मासूम लोगों की हत्या को किसी भी सूरत में सही नहीं ठहराया जा सकता. ट्रंप ने ट्वीट किया कि मैं जानता हूं कि मेरे साथ देश का प्रत्येक व्यक्ति इस घृणित हरकत की निंदा करता है. मासूम लोगों की हत्या किए जाने के पीछे किसी कारण या बहाने को सही नहीं ठहराया जा सकता. मेलानिया और मैं टेक्सास के लोगों के प्रति संवेदनाएं जाहिर करते हैं. मेक्सिको के विदेश मामलों के मंत्री मार्सेला एबरार्ड ने कहा कि घायलों में मेक्सिको के भी छह नागरिक शामिल हैं. घायलों का स्थानीय अस्पतालों में इलाज चल रहा है. डेल सोल मेडिकल सेंटर के प्रवक्ता विक्टर गुरेरो ने कहा कि अस्पताल 11 घायलों का इलाज कर रहा है. उन्होंने कहा कि नौ की हालत नाजुक है और अन्य दो की हालत स्थिर हैं. घायलों की उम्र 35 से 82 साल के बीच है. वहीं अल पासो के यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर के प्रवक्ता रेयान मेल्के ने 13 घायलों के भर्ती होने की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि घायलों में दो साल के एक बच्चे समेत दो नाबालिग भी शामिल हैं. उन्होंने बताया कि घायलों को मामूली से लेकर घातक चोटें आईं हैं.

बंदूकधारी की पहचान डलास उपनगर के निवासी के रूप में हुई
अधिकारियों ने बंदूकधारी की पहचान डलास उपनगर के निवासी पैट्रिक क्रूसियस के तौर पर की है. उसने वालमार्ट के बाहर पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया और उसके बाद उसे हिरासत में ले लिया गया. उनका कहना है कि वह श्वेत क्रूसियस के घोषणापत्र की जांच कर रहे हैं जिसे संभवत : गोलीबारी से पहले पोस्ट किया गया. इसमें इस हमले को “टेक्सास में लातिन अमेरिकियों के आक्रमण” का जवाब बताया गया है. यह घोषणापत्र श्वेतों को सर्वश्रेष्ठ दिखाने वाली भाषा एवं आप्रवासियों एवं लातिन अमेरिकियों के खिलाफ नस्ली घृणा से भरा हुआ है जिसमें उन पर नौकरियां छीनने का आरोप लगाया गया है.