Akash Sondhi jailed after targeting 573 women for intimate photos: ब्रिटेन की एक अदालत ने भारतीय मूल के व्यक्ति को 574 से अधिक लड़कियों और महिलाओं के कम्प्यूटर में हैकिंग करने, धमकाने, ताक-झांक करने और साइबर अपराध का दोषी ठहराते हुए 11 साल जेल की सजा सुनाई है. यह हैकिंग उनका उत्पीड़न करने के इरादे से की गई थी.Also Read - लुटेरे ने भारतीय मूल के CEO को गोली मारी, 10 हजार डॉलर लूटने के लिए 80 किमी पीछा कर घर में हत्‍या की

ब्रिटेन की क्राउन अभियोजन सेवा (सीपीएस) ने बताया कि आकाश सोंधी ने सैकडों सोशल मीडिया खातों में सेंधमारी की और 26 दिसंबर 2016 से 17 मार्च 2020 के बीच धमकी देने का अपराध किया. Also Read - Covid-19: US में भारतीय शेफ ने 4 करोड़ रुपए से ज्‍यादा जुटाए, भारत को भेजी सहायता

उन्होंने बताया कि दक्षिण-पूर्व इंग्लैंड के एसेक्स निवासी 27 वर्षीय सोंधी ने पीड़िताओं को धमकाया कि यदि वे उसे अपनी निर्वस्त्र तस्वीरें नहीं भेजेंगी तो वह उनकी अंतरंग तस्वीरें उनके दोस्तों एवं परिवार के सदस्यों को भेज देगा. सोंधी कम से कम छह महिलाओं को अपनी धमकी मनवाने में कामयाब रहा. Also Read - Who is Akanksha Arora? कौन हैं भारतीय मूल की महिला आकांक्षा अरोड़ा? बन सकती हैं संयुक्त राष्ट्र की अगली महासचिव

सीपीएस से जुड़े वरिष्ठ अभियोजक जोसेफ स्टिकिंग्स ने कहा, ‘आकाश सोंधी ने युवा महिलाओं को भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक क्षति पहुंचाई है.’ सीपीएस के मुताबिक, सोंधी के कृत्य के चलते पीड़िताओं को गंभीर मानसिक उत्पीड़न का सामना करना पड़ा, जिनमें से एक ने बाद में आत्महत्या तक का प्रयास किया.

(इनपुट भाषा)