तेहरान: अमेरिकी ड्रोन हमले में मारे गए ईरान के शीर्ष सैन्य कमांडर के जनाजे के जुलूस में मची भगदड़ में अभी तक 35 लोगों के मरने और 48 लोगों के घायल होने की सूचना है. ईरान की सरकारी टीवी के अनुसार, मंगलवार को कासिम सुलेमानी के गृह नगर करमान में उनके दफन के लिए जमा हुए लोगों में भगदड़ मच गई. सोमवार को राजधानी तेहरान में हुए जनाजे के जुलूस में 10 लाख से ज्यादा लोग जमा हुए थे. Also Read - ईरान के नातान्ज परमाणु इकाई में क्‍या हुआ? इसे ईरानी न्‍यूक्‍लीयर चीफ ने ‘परमाणु आतंकवाद’ करार दिया

गौरतलब है कि ईरानी सेना के कुद्स फोर्स के कमांडर कासिम सुलेमानी को अमेरिका ने ड्रोन हमले में मार गिराया था. यह घटना बगदाद में हुई थी. कासिम सुलेमानी की मौत की पुष्टि करते हुए अमेरिका में शीर्ष अधिकारियों द्वारा एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया और बताया गया कि सुलेमानी को मार गिराया गया है. Also Read - ट्रंप के जाते ही बाइडेन ने बदला अमेरिका का नजरिया- परमाणु समझौते पर ईरान के साथ होगी बातचीत

बता दें कि अमेरिका की नजरों में कासिम सुलेमानी एक आतंकवादी था. लेकिन ईरान के लिए वह ईरानी फोर्स का शीर्ष कमांडर था. बता दें कि इस घटना के बाद से लगातार खाड़ी में तनाव बना हुआ है. ईरान ने इस बाबत अमेरिका को धमकी भी दी है. हालांकि अभी यह पता नहीं चल सका है कि ईरान अमेरिका के खिलाफ क्या कर्रवाई करेगा. Also Read - School Reopen: कोरोना के कहर के बीच यहां खुले स्कूल, प्लास्टिक टेंट  में 'कैद' होकर पढ़ते बच्चों की तस्वीर वायरल