बीते शनिवार हाईजैक हुए अफ्रीकी एयर लाइन एयरबस A320 को अपहरणकर्ताओं से छुड़ा लिया गया है। अपहरणकर्ता इसे माल्टा ले गए थे जहां इनके समर्पण कर देने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। विमान में मौजूद सभी यात्री पूरी तरह सुरक्षित हैं।

माल्टा के प्रधानमंत्री जोसेफ मस्कट ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आतंकी लीबिया के पूर्व तानाशाह मुअम्मर गद्दाफी समर्थक हैं। उनसे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि विमान में चालक दल समेत 118 लोग सवार थे और सभी सुरक्षित हैं।

गौरतलब है लीबिया सरकार की एयरलाइन अफ्रीकियाह एयरवेज का यह विमान दक्षिण पश्चिम लीबिया के सेभा से उड़कर त्रिपोली जा रहा था। किसी तरह दो आतंकी इसमें हैंड ग्रेनेड के साथ घुसने में सफल हो गए। इसके बाद उन्होंने चालक दल को विमान उड़ाने की धमकी देकर उसे माल्टा में लैंड करवा दिया। लीबिया के उत्तरी तट के पास माल्टा, भूमध्यसागर का एक छोटा आइसलैंड है जो 500 किमी के दायरे में फैला हुआ है। यह भी पढ़ें: अफ्रीकी एयरनलाइन एयर बस A320 लीबिया से हाईजैक, 118 यात्री सवार

मीडिया रिपोर्ट्स के  मुताबिक आतंकियों ने गद्दाफी के समर्थन में पार्टी बनाने और उसका प्रचार करने के लिए विमान को हाईजेक करने की बात कही है। बता दें विरोध भड़कने के बाद 2011 में विद्रोहियों ने लीबियाई तानाशाह गद्दाफी को मार दिया गया था। इस तरह 42 साल पुराने तानाशाही शासन का अंत हुआ था।