वॉशिंगटन: यूएस पोर्टल सर्विस के इस्तेमाल के मुद्दे पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से लगातार निशाना साधे जाने के बाद ऑनलाइन रिटेलर कंपनी अमेजन के शेयरों में सोमवार को भारी गिरावट दर्ज की गई. अमेजन का शेयर वैल्यू 5.9 प्रतिशत गिर गया. यानी 45 बिलियन डॉलर का नुकसान हुआ है. अमेजन की मार्केट वैल्यू $1,362.48 है.

पिछले हफ्ते किए गए ट्वीट में अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा था कि अगर यूएस पोर्टल सर्विस अपने पार्सल रेट बढ़ाता है तो अमेजन का शिपिंग लागत बढ़कर 2.6 अरब हो जाएगा. ट्रंप ने लिखा कि यह पोस्ट ऑफिस घोटाला जरूर बंद होना चाहिए.

पिछले साल सिटीग्रुप द्वारा जारी एक विश्लेषण के मुताबिक, अगर लागत निष्पक्ष तरीके से निर्धारित किया जाता है तो अमेजन को यूएसपीएस के जरिए भेजने पर औसतन एक पैकेज पर 1.46 डॉलर से ज्यादा का शिपिंग लागत आएगा. अमेजन पर यह नया निशाना ट्रंप के उस दावे के दो दिन बाद साधा गया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि अमेजन द्वारा शिपिंग लागत में धांधली करने से खुदरा व्यवसाय और स्थानीय सरकारों पर नकारात्मक असर पड़ा है.

ट्रंप अक्सर समाचार पत्र वॉशिंगटन पोस्ट की आलोचना करते रहते हैं, जिसका स्वामित्व अमेजन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेफ बेजोस के पास है. टाइम की रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार को एक बार फिर ऐसा हुआ.

इससे पहले ट्रंप ने ट्वीट कर कहा था मैंने चुनाव के काफी पहले अमेजन के साथ अपनी चिंता जाहिर की थी. दूसरों के विपरीत, वे देश और स्थानीय सरकारों को कर का भुगतान बहुत कम करते हैं या नहीं करते हैं. हमारी डाक प्रणाली का इस्तेमाल वे डिलीवरी का काम करने वाले शख्स की तरह करते हैं (जिससे अमेरिका को काफी नुकसान हो रहा है) और हजारों खुदरा व्यापारियों के व्यवसाय को नुकसान पहुंचा रहे हैं. ट्रंप के दौलतमंद मित्रों ने भी उनसे शिकायत की है कि अमेजन उनके व्यवसाय को नुकसान पहुंचा रहा है.