लास वेगास: अमेरिकी के लास वेगास में अमेरिकी इतिहास के अब तक के सबसे घातक नरसंहार के एक साल हो गए, लेकिन अब भी पता नहीं चल पाया है कि 64 वर्षीय निवेशक और गैम्बलर स्टीफन पैडोक ने यह हमला क्यों किया था. हमलावर ने होटल की एक खिड़की से एक संगीत समारोह पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी थी जिससे 58 लोगों मारे गए थे और 400 से ज्यादा लोग घायल हो गये थे. उसने 1100 से ज्यादा राउंड गोली चलाई थी. Also Read - साउथ एशिया में चीन की बढ़ेंगी मुश्किलें, अमेरिका अब इस देश में खोलेगा अपना दूतावास, जानें भारत को क्या होगा फायदा

Also Read - भारत, अमेरिका का संयुक्त बयान, अपनी धरती से आतंकवादी गतविधियों को अनुमति न दे पाकिस्तान

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप बोले- मैं पियक्कड़ नहीं हूं, शराब से दूरी मेरे अच्छे गुणों में शामिल Also Read - US Election: भारतवंशी निक्की हेली का दावा, अमेरिका ने तोड़ी पाकिस्तान की कमर, बंद की अरबों की फंडिंग

सोमवार को राजधानी में इस हत्याकाण्ड की पहली बरसी पर मृतकों को श्रद्धांजलि देने के लिए एक समारोह का आयोजन किया गया. इसमें मृतकों के परिजन और और जीवित बचे लोग शामिल हुए. मृतकों की याद में 58 फाखते उड़ाए गए.

अमेरिकी इतिहास में सबसे भीषण गोलीबारी, 50 की मौत, 400 से ज्यादा घायल

वाशिंगटन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी इस अवसर पर अपनी संवेदना व्यक्त की. मृतकों की याद में आयोजित किए गए एक समारोह में शामिल हुये ट्रंप ने कहा कि ‘पूरा अमेरिका मृतकों और अपने प्रियजन खोने वाले लोगों के लिए दुखी है. सभी परिवारों और लास वेगास के लोगों के लिए मैं कहना चाहता हूं कि हम आपसे प्यार करते हैं. हम आपके साथ हैं.’