न्यूयार्क: अमेरिका में एक 54 वर्षीय पुरुष पर भारतीय मूल की एक महिला पर हमला करने तथा समलैंगिकों के प्रति नफरत भरे शब्दों का इस्तेमाल करने पर घृणा अपराध के आरोप लगाए गए हैं. अलाशहीद अल्लाह (54) को पिछले माह न्यूयार्क के क्वीन्स बरो में अवनीत कौर (20) पर हमला करने के आरोप में गिरफ्तार कर के बृहस्पतिवार को अदालत में पेश किया गया. पकड़े गए शख्स पर घृणा अपराध के आरोप लगाए गए हैं.

‘Yellow Vest Protest’ थमने के आसार नहीं, राष्ट्रपति मैक्रों के वादे और रियायत बे-असर

इस काउंटी में ऐसे अपराध बर्दाश्त नहीं
क्वीन्स के डिस्ट्रिक अटॉर्नी रिचर्ड ब्राउन ने कहा कि दोषी पाए जाने पर उसे साढ़े तीन साल से 15 साल तक कैद की सजा सुनाई जा सकती है. ब्राउन ने कहा कि क्वीन्स काउंटी देश की सर्वाधिक विविधता वाली काउंटी है. यहां अनेक नस्ल, राष्ट्रीयता और यौन झुकाव वाले लोग रहते हैं. पक्षपात से उपजे अपराध- खासतौर पर हिंसा भरे अपराधों को इस काउंटी में कभी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

श्रीलंका का सियासी संकट: राजपक्षे ने प्रधानमंत्री पद से दिया इस्तीफा, विक्रमसिंघे कल लेंगे शपथ

आरोप के अनुसार 20 वर्षीय अवनीत कौर पिछले माह मैनहटन में एक सब-वे ट्रेन में सफर कर रही थी उसी दौरान आरोपी से उसकी कहासुनी हो गई. वाद विवाद में आरोपी अलाशहीद ने कौर और उनकी दोस्त के खिलाफ समलैंगिकों के प्रति नफरत भरे शब्दों का इस्तेमाल किया. घटना के बाद जब दोनों युवतियां जाने लगीं तो आरोपी ने उनका पीछा किया और अवनीत कौर के सिर के पिछले हिस्से पर प्रहार किया, इसके बाद उसने उसके सीने में मारा, इस हमले में कौर गिर पड़ी फिर आरोपी ने उसके सिर और गर्दन को खंभे से भिड़ा दिया.

रूस की ‘गन गर्ल’ ने माना, अमेरिका में क्रेमलिन के लिए सीक्रेट एजेंट थी

आरोपी ने अदालत के सामने स्वीकार किया कि उसने अवनीत कौर के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की और दो बार ट्रेन में यात्रा के दौरान अपनी मित्र का चुंबन लेने के प्रति उसे धमकी भी दी. घटना के बाद गंभीर रूप से घायल कौर को तत्काल स्थानीय अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर पाया गया. आरोपी का अपराध साबित होने के बाद उसे कोर्ट 15 साल तक की सजा सुनाई जा सकती है. (इनपुट एजेंसी)