वाशिंगटन: अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही में विदेश मंत्रालय कानून का पालन करेगा. पोम्पिओ यूनान की यात्रा पर हैं. उन्होंने संवाददताताओं को बताया कि उन्होंने इस संबंध में शुक्रवार रात कांग्रेस को एक पत्र भेजा है और कांग्रेस की एक समिति द्वारा मांगे गए दस्तावेज के संबंध में विदेश मंत्रालय ने ऐसा किया. पोम्पिओ ने एक प्रश्न के जवाब में कहा, ‘‘ निश्चित रूप से हम वह हर चीज करेंगे जिसे कानूनी रूप से करने की जरूरत होगी.’’

डेमोक्रेट एलिजाबेथ वारेन ने कश्मीर को लेकर जताई चिंता, कहा-कश्मीरियों के अधिकारों का सम्मान किया जाना चाहिए

उन्होंने कहा, ‘‘ मैं कांग्रेस का सदस्य रह चुका हूं, अनुच्छेद एक के पास कुछ निश्चित शक्तियां हैं, और अनुच्छेद दो में विदेश मंत्रालय के अधिकारियों की रक्षा सुनिश्चित करने की बात कही गई.’’ हालांकि उन्होंने कहा कि कांग्रेस समिति में कई ऐसी जाचें हुई हैं जिनमें विदेश मंत्रालय की कर्मचारियों को परेशान किया गया, क्योंकि उन्होंने सीधे तौर पर कर्मचारियों से संपर्क किया और दस्तावेज मुहैया कराने की मांग की. ये दस्तावेज विदेश मंत्रालय के हैं और आधिकारिक अमेरिकी सरकार के रिकॉर्ड हैं. पोम्पिओ से जब ट्रंप के खिलाफ जांच के औचित्य के संबंध में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर इसमें राजनीति शामिल है.

इस शख्स ने 200 लोगों को बना दिया एड्स का रोगी, सुप्रीम कोर्ट ने बरकरार रखी 25 साल की सजा