वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने कामकाजी दिनों का 60 प्रतिशत हिस्सा ‘Executive Time ’ के तौर पर आराम को देने का बचाव करते हुए रविवार को कहा कि वह किसी भी पूर्व राष्ट्रपति से अधिक काम करते हैं. ‘एक्सियोस’ द्वारा पिछले सप्ताह प्रकाशित सूचनाओं के अनुसार, ट्रंप के कामकाजी दिनों के 60 प्रतिशत हिस्से को ‘Executive Time’ की श्रेणी में डाला गया है. इसका मतलब है कि ट्रंप ने इस दौरान फोन किए, समाचार पत्र पढ़े, ट्वीट किए और टीवी देखा. Also Read - US President: जिद के बाद आखिरकार व्हाइट हाउस छोड़ने को तैयार हुए डोनाल्ड ट्रंप, रखी ये शर्त

Also Read - US Election 2020: कौन होगा अमेरिका का 45वां राष्ट्रपति.. ट्रंप या बाइडेन, वोटिंग हुई शुरू

काम कर रहा होता हूं आराम नहीं Also Read - तेजस्वी ने नीतीश से किया सवाल-बिहार को स्पेशल स्टेटस दिलवाने डोनाल्ड ट्रंप आएंगे क्या

राष्ट्रपति ने इस पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि इस खाली समय को नकारात्मक की बजाय सकारात्मक तौर पर देखा जाना चाहिए. ट्रंप ने कहा, ‘‘जब ‘Executive Time ’ शब्द का इस्तेमाल किया गया है तब मैं आमतौर पर काम कर रहा होता हूं आराम नहीं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘वास्तव में, मैं किसी भी पूर्व राष्ट्रपति की तुलना में अधिक काम करता हूं.’’ ट्रंप ने कहा, ‘‘सच यह है कि जब मैंने राष्ट्रपति पद का कार्यभार संभाला था तब हमारा देश अव्यवस्थित था. कमजोर होती सेना, कभी ना समाप्त होने वाले युद्ध, उत्तर कोरिया के साथ संभावित युद्ध की स्थिति, वी.ए, उच्च कर और विनियम, सीमा, आव्रजन तथा स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़ी कई समस्याएं और बहुत कुछ.’’

किसने किया कार्यक्रम लीक?

उन्होंने कहा, ‘‘मेरे पास कोई विकल्प नहीं था, मैं घंटों तक काम करता रहता था.’’ उनके प्रेस कार्यालय की ओर से मीडिया में जारी रोजनामचा के अनुसार बहुत कम ही ऐसा होता है जब राष्ट्रपति सुबह 11 बजे से पहले काम शुरू करते थे. व्हाइट हॉउस के कार्यकारी चीफ ऑफ स्टाफ मिक मुल्वानी ने कहा, ‘‘सुबह साढ़े छह बजे से कार्यालय में फोन आना शुरू होते हैं, जो रात 11 बजे तक आते रहते हैं. मैं इस बात का आश्वासन दे सकता हूं कि वह अपने तय कार्यक्रम से कहीं अधिक काम कर रहे हैं.’’ ट्रंप ने कथित तौर पर लीक के मामले में गहन जांच के आदेश दिए हैं. मुल्वानी ने कहा कि व्हाइट हाउस को आरोपी के इस हफ्ते पहचाने जाने की उम्मीद है जिसने राष्ट्रपति ट्रंप की दिनचर्या व कार्यक्रम का खुलासा किया है.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा- हनोई में किम के साथ करेंगे दूसरी शिखर वार्ता