चटगांव। बांग्लादेश की शीर्ष महिला क्रिकेटरों में से एक को 14,000 मिथामफेटामाइन की गोलियों के साथ पकड़ा गया जिससे उन्हें आजीवन कारावास की सजा भुगतनी पड़ सकती है. पुलिस ने आज इसकी जानकारी दी. नजरीन खान मुक्ता ढाका प्रीमियर लीग में प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलती हैं. वह काक्स बाजार में मैच खेलकर लौट रही थी, तब पुलिस ने उन्हें रोक दिया और चटगांव में टीम की बस की तलाशी ली.Also Read - तो अब अपराध की श्रेणी में नहीं आएगी कम मात्रा में बरामद ड्रग्स? सामाजिक न्याय मंत्रालय ने की ये खास सिफारिश

स्थानीय पुलिस प्रमुख प्रणब चौधरी ने एएफपी से कहा कि हमारी तलाशी में 14,000 याबा गोलियां (मिथामफेटामाइन की गोलियों का स्थानीय नाम) निकलीं जिन्हें पैकेट में रखा गया था. Also Read - Punjab: भारत-पाकिस्तान सीमा के पास हथियारों का बड़ा जखीरा मिला, एक किलो हेरोइन बरामद

चौधरी ने कहा कि इस खिलाड़ी पर मादक पदार्थों की तस्करी का आरोप तय किया जाएगा और इस अपराध में अधिकतम सजा आजीवन कारावास है. Also Read - उद्धव ठाकरे ने कहा- NCB सिर्फ सेलेब्रिटीज़ को पकड़कर फोटो खिंचाती है, गुजरात में मिली करोड़ों की ड्रग्स का क्या?