नई दिल्लीः दुनिया भर को अपना निशाना बना रही वैश्विक महामारी कोरोना वायरस भले ही चीन से निकला था, लेकिन इसका सबसे ज्यादा प्रभाव देखने को मिल रहा है अमेरिका (America Corona Death Toll) में. दुनियाभर में इस संक्रमण से 3 लाख से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और हर दिन यह आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. वहीं केवल अमेरिका में कोरोना महामारी (Corona Epidemic) से मरने वालों की संख्या 85 हजार को पार कर गई है और करीब 14 लाख 30 हजार अब भी इस महामारी से संक्रमित हैं. ऐसे में देश का यह हाल देख अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा (Barack Obama) भी काफी भावुक हो गए हैं. Also Read - डोनाल्ड ट्रम्प ने मध्यस्थता की पेशकश की, चीन बोला- हालात 'पूरी तरह स्थिर और नियंत्रण-योग्य हैं'

बराक ओबामा ने कोरोना वायरस से निपटने को लेकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के तरीकों पर सवाल उठाए हैं और उनकी जमकर आलोचना की है. पूर्व राष्ट्रपति के मुताबिक, वर्तमान सरकार ने समय रहते इस महामारी की गंभीरता को नहीं समझने की बड़ी चूक की है. जिसका खामियाजा अब देश को भुगतना पड़ रहा है. देश की वर्तमान स्थिति को देखते हुए ओबामा इस दौरान काफी इमोशनल हो गए और उनकी आंखों में आंसू आ गए. Also Read - भारत-चीन के बीच सीमा विवाद पर यूएस मध्‍यस्‍थता करने को तैयार है: ड्रोनाल्‍ड ट्रंप

ओबामा ने जॉर्जिया में मारे गए अश्वेतों को लेकर भी चिंता जाहिर की. उन्होंने कहा कि, ‘जॉर्जिया की घटना बताती है कि अमेरिका में अब भी बहुत भेदभाव है.’ दरअसल, ओबामा 2020 में ग्रेजुएट होने वाले अश्वेत कॉलेजों के छात्रों को ऑनलाइन संबोधित कर रहे थे. इसी दौरान ट्रंप का नाम लिए बिना उन्होंने उन पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि, इस महामारी ने यह बता दिया है कि जो लोग वर्तमान सरकार चला रहे हैं, वह ये नहीं जानते कि वह क्या कर रहे हैं. कई लोग तो अपनी जिम्मेदारी ही नहीं समझ रहे और ना ही इसे उठाना चाहते हैं. Also Read - बीसीसीआई को भरोसा, भारत से टी20 विश्व कप की मेजबानी छीनकर 'आत्महत्या' नहीं करेगी ICC