Also Read - संयुक्त राष्ट्र जलवायु वार्ता: ग्रेटा थनबर्ग ने फिर दिखाई नाराजगी, कहा- विश्व के नेता सच से डरते हैं

Also Read - PM मोदी आज यूएस के टॉप-5 सीईओ के साथ भारत में कारोबारी अवसरों पर करेंगे चर्चा

जेरूसलम: अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को जुलाई में व्हाइट हाउस आमंत्रित किया है। समाचार एजेंसी ईएफई के अनुसार, इजरायली समाचार पत्र येदियत अहरोनोत ने स्पष्ट किया है कि दोनों नेताओं की मुलाकात 15 जुलाई या 16 जुलाई को होगी। तबतक ईरान और पी5 प्लस1 समूह के बीच परमाणु समझौते की समय सीमा बीत चुकी होगी, लेकिन इस समझौते पर कांग्रेस में मतदान तबतक नहीं हुआ रहेगा। यह समझौता दोनों सहयोगियों के बिगड़ते संबंधों पर काफी समय से मडरा रहा है। पिछले मार्च महीने में नेतन्याहू ने अपने चुनाव अभियान के बीच जब वाशिंगटन का दौरा किया था, तब उन्होंने कांग्रेस में इस समझौते पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। यह भी पढ़े:अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में जेब बुश भी कूदे Also Read - PM Modi US Visit: प्रधानमंत्री मोदी वॉशिंगटन पहुंचे, लोगों ने त‍िरंगा लहराते हुए क‍िया भव्‍य स्‍वागत

ओबामा ने एक अभूतपूर्व घटना के तहत नेतन्याहू से मिलने से इंकार कर दिया था और कहा था कि इस मुलाकात से इजरायल का चुनाव प्रभावित होगा, लेकिन उन्होंने वादा किया था कि यदि नेतन्याहू चुनाव जीत जाते हैं तो वह उनसे मुलाकात करेंगे। खास बात यह कि नेतन्याहू का पूर्व का दौरा कांग्रेस के रिपब्लिकन नेताओं ने प्रायोजित किया था, जिन्होंने तेहरान के साथ व्हाइट हाउस के समझौते पर चर्चा के लिए नेतन्याहू को आमंत्रित किया था। ओबामा ने इस मामले को वाशिंगटन की विदेश नीति में इजरायली हस्तक्षेप की एक कोशिश करार दिया था।

अखबार के अनुसार, आगामी दौरा ओबामा और नेतन्याहू के बीच संबंध सुधारने में मददगार होगा, साथ ही द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने और अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर इजरायल के लिए वाशिंगटन का सहयोग सुनिश्चित कराने में भी यह दौरा मददगार होगा। अखबार ने यह भी अनुमान जाहिर किया है कि नेतन्याहू ओबामा से अपने देश के लिए सैन्य सहायता बढ़ाने का आग्रह भी कर सकते हैं। क्योंकि तेहरान के साथ परमाणु समझौते को इजरायल अपने लिए एक खतरे के रूप में देखता है।