नई दिल्ली: भारतीय पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए बेल्जियम ने बॉलीवुड, बियर और ब्रसेल्स तथा ब्रग्स जैसे अपने शहरों के आकर्षण का इस्तेमाल कर इनकी संख्या में खासा बढोत्तरी की है, लेकिन बेल्जियम चाहता है शिक्षा के साथ-साथ पर्यटन के क्षेत्र में भी सहयोग को बढ़ावा देकर इसकी संख्या में और वृद्धि हो और दोनों देश के लोग एक दूसरे की संस्कृति को बेहतर ढंग से समझ सकें. भारतीय छात्रों से भी बेल्जियम खासा प्रभावित है और उन्हें अपने देश बुलाने में वो कोई कोर-कसर छोड़ना नहीं चाहता है.

कनाडा में Huawei Technologies की शीर्ष अधिकारी गिरफ्तार, चीन ने कहा तत्काल रिहा करें

भारतीय छात्र बहुत अच्छे हैं
भारत में बेल्जियम के राजदूत फ्रैंकोइस डेलहाए ने कहा, ‘‘हम यह चाहते हैं कि बेल्जियम को भारतीय लोग बेहतर तरीके से जान पाए. चूंकि भारतीय अधिक से अधिक यात्रा कर रहे हैं, वे कई यूरोपीय देशों का दौरा कर रहे हैं ऐसे में उन्हें अपने देश में घूमने के लिए प्रोत्साहित करना चाहता है बेल्जियम. राजदूत डेलहाए ने मीडिया से बातचीत में कहा कि देश की राजधानी ब्रसेल्स को उस तौर पर नहीं जाना गया है जैसा कि वह जानने योग्य है. उन्होंने सिर्फ पर्यटन नहीं बल्कि शिक्षा के क्षेत्र में भी दोनों देशों के बीच नजदीकियां बढ़ाने की वकालत करते हुए कहा कि पर्यटन के अलावा दोनों देशों को छात्रों की अदला बदली पर ध्यान देना चाहिए. डेलहाए ने कहा, ‘‘शिक्षा के क्षेत्र में, ब्रसेल्स में अब भारतीय छात्रों की संख्या बढ़ी है लेकिन हम अधिक भारतीय छात्रों को विशेष रूप से विज्ञान के छात्रों को लाना चाहते हैं क्योंकि ‘भारतीय छात्र बहुत अच्छे हैं.’ (इनपुट एजेंसी)

भारत-पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय व्यापार क्षमता से काफी कम: रिपोर्ट