वाशिंगटन: कोविड-19 चुनौती से निपटने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने अनेक कार्यकारी आदेशों पर हस्ताक्षर किए हैं. इनमें विदेशों से अमेरिका में आने वाले लोगों के लिए कोरोना वायरस जांच तथा पृथक-वास को अनिवार्य कर दिया गया है. Also Read - PSL स्थगित, सोशल मीडिया पर IPL की आलोचना पर जमकर ट्रोल हुए Dale Steyn

बाइडन ने आदेशों पर हस्ताक्षर करने के बाद व्हाइट हाउस में एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘मास्क पहनना होगा, इसके अलावा जो भी दूसरे देशों से अमेरिका आ रहे हैं उन लोगों को विमान पर सवार होने से पहले, अमेरिका के लिए रवाना होने से पहले जांच करवानी होगी तथा अमेरिका आने पर पृथक-वास में रहना होगा.’’ Also Read - COVID-19: देश में 24 घंटे में 16,838 नए मामले आए, 113 मरीजों की हुई मौत

उन्होंने कहा, ‘‘हमारी राष्ट्रीय योजना में युद्धस्तर पर काम शुरू किया जा रहा है जिससे कि उत्पादन बढ़ाकर आपूर्ति में कमी को दूर किया जा सके चाहे यह रक्षात्मक उपकरण की हो, सीरिंज, सुईयां आदि किसी की भी हो. जब मैं युद्धकाल कहता हूं तो लोग हैरानी से देखते हैं. कल रात तक 4,00,000 अमेरिकियों की जान चली गई और यह दूसरे विश्व युद्ध से ज्यादा है. ’’ उन्होंने कहा कि अगले महीने मृतकों की संख्या 5,00,000 से भी अधिक होने की आशंका है ,तथा कोरोना वायरस के मामले भी बढ़ते रहेंगे. Also Read - 7th Pay Commission : सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, जल्द जारी होने वाली है कर्मचारियों की रोकी गई रकम

बाइडन ने कहा, ‘‘हम इससे रातोरात नहीं निपट सकते, चीजों को बदलने में कई महीनों का वक्त लगेगा लेकिन हम इससे उबर जाएंगे, इस महामारी को हरा देंगे और कार्रवाई का इंतजार कर रहे राष्ट्र से मैं साफ कर देना चाहता हूं कि मदद इस दिशा में बढ़ रही है.’’

कोविड-19 पर राष्ट्रीय रणनीति तथा महामारी को हराने के लिए कार्यकारी कदमों के बारे में जानकारी देते हुए बाइडन ने कहा कि यह योजना उनके उन विचारों को प्रतिबंबित करती है जो उन्होंने प्रचार अभियान के दौरान सामने रखे थे और बीते तीन महीने में इनमें और भी बदलाव किए गए हैं. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय रणनीति व्यापक एवं विस्तृत है और यह राजनीति और इनकार पर नहीं बल्कि विज्ञान और सच्चाई पर आधारित है.

बाइडन ने कहा कि योजना की शुरुआत में सुरक्षित एवं प्रभावी टीकाकरण अभियान को आक्रामक तरीके आगे बढ़ाना है और प्रशासन के पहले 100 दिन में 10 करोड़ लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य हासिल करना है.

उन्होंने एक अन्य आदेश पर भी हस्ताक्षर किए हैं जिसमें रक्षा उत्पादन अधिनियम तथा अन्य उपलब्ध प्राधिकारियों का इस्तेमाल करते हुए सभी संघीय एजेंसियों एवं निजी उद्योगों को यह निर्देश दिया जाएगा कि वे सुरक्षा, जांच और टीकाकरण के लिए जो कुछ भी जरूरी है उसके उत्पादन को बढ़ाएं.

(इनपुट एजेंसी)