नई दिल्ली: एक तरफ पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है, वहीं दूसरी तरफ जापान से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है. यहां बर्ड फ्लू ने विकराल रूप धारण कर लिया है जिस कारण जापान के 10 राज्य इससे बुरी तरह प्रभावित हैं. इस घटना के सामने आने के बाद जापान में मुर्गियों को मारकर दफनाने के आदेश दिए जा चुके हैं ताकि कोरोना महामारी के दौरान एक अन्य महामारी भी काल न बन जाए. Also Read - Lockdown in India: 'लॉकडाउन में भारतीय अरबपतियों की संपत्ति में हुई 35 फीसदी की बढ़ोतरी, दुनिया भर में हर घंटे 1.7 लाख हुए बेरोजगार'

जापान के कृषि मंत्रालय के मुताबिक लगभग 11000 मुर्गियों को मारकर उन्हें दफनाया जाएगा. बता दें कि कागवा प्रांत, शिगा प्रान्त, हिगाशीओमी शहर इत्यादि जगहों पर इस महामारी का प्रकोप देखने को मिल रहा है. पिछले महीने से बर्ड फ्लू की राज्यों में शुरुआत हो गई थी. Also Read - India vs England: चेन्नई टेस्ट से पहले इंग्लैंड टीम को अभ्यास के लिए मिलेंगे केवल तीन दिन

जापान और दक्षिण कोरिया में फैल रही यह बीमारी दुनिया भर में मुर्गों की मौत के लिए जिम्मेदार 2 अलग अलग उच्च रोगजनक एवियन इन्फ्लूएंजाओं में से एक हैं. सबसे पहले इसकी उत्पति यूरोप के जंगली पक्षियों में हुई थी. AFO द्वारा अफ्रीक स्वास्थ्य अधिकारियों को हाल ही में अलर्ट दी गई थी कि यूरोप में फैल रहे बर्ड फ्लू वायरस के फैलने से रोकने के लिए खेतों की निगरानी अलर्ट होकर की जाए. बता दें कि जापान के कुळ 47 प्रान्तों में से 10 बर्ड फ्लू महामारी से बुरी तरह प्रभावित हैं. Also Read - द. कोरिया: पालतू जानवर में Covid-19 का पहला मामला आया सामने, बिल्ली का बच्चा कोरोना वायरस से संक्रमित