मोगादिशू: सोमालिया के सुरक्षा बलों ने एक लोकप्रिय होटल के प्रवेश द्वार पर एक आत्मघाती हमलावर द्वारा विस्फोटक से लदे एक वाहन में विस्फोट किए जाने के बाद इमारत में घुस आये पांच चरमपंथियों के कारण रात भर की गयी घेराबंदी को खत्म कर दिया है. शनिवार दोपहर में हुये इस हमले में 23 लोग मारे गये.

कैप्टन मोहम्मद हुसैन ने बताया कि रविवार को तड़के सैनिकों ने नासा-हबलोड होटल पर पुन: नियंत्रण कर लिया. उन्होंने तीन हमलावरों को मार गिराया और दो को जिंदा पकड़ लिया.

अफ्रीका के सबसे घातक इस्लामी चरमपंथी समूह अल शबाब ने हमले की तत्काल जिम्मेदारी ली. हमला शनिवार को दोपहर हुआ जब राजधानी में लोकप्रिय होटल के बाहर विस्फोटक से लदे एक ट्रक में विस्फोट किया गया. विस्फोट के कारण आसपास के वाहनों और नजदीकी इमारतों को भारी नुकसान पहुंचा.

इस बीच, हमलावर होटल में घुस गये. इमारत में उनके तथा सुरक्षा बलों के बीच गोलीबारी होती रही. दो विस्फोट की आवाज भी सुनी गयी. इसमें से एक धमाका तब हुआ जब हमलावर ने अपनी आत्मघाती जैकेट में विस्फोट किया.

दो सप्ताह पहले ही, मोगादिशु की एक व्यस्त सड़क पर एक ट्रक में हुये भीषण विस्फोट में 350 से अधिक लोगों की जान चली गई थी. घटना में घायल होने वाले 30 लोगों में सरकार का एक मंत्री भी शामिल है और उन्हें तथा अन्य लोगों को भारी गोलीबारी के बीच बचाया गया. कुछ हमलावरों ने ग्रेनेड फेंके और इमारत की बिजली काट दी. हुसैन ने बताया कि मृतकों में एक महिला और उसके तीन बच्चे शामिल हैं. इन सभी के सिर में गोली मारी गयी है.