लंदन/ नई दिल्‍ली: कंजरवेटिव पार्टी के नेतृत्व की जंग शानदार तरीके से जीतने के एक दिन बाद बोरिस जॉनसन ने बुधवार को औपचारिक रूप से ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री पद की कमान संभाल ली. 55 वर्षीय पूर्व विदेश मंत्री और लंदन के पूर्व मेयर जॉनसन ने महारानी ऐलिजाबेथ द्वितीय से मुलाकात की जिन्होंने उनको नए प्रशासन का गठन करने को कहा. बकिंघम पैलेस ने एक बयान में यह जानकारी दी है. वहीं, पीएम नरेंद्र मोदी ने जॉनसन को पीएम बनने पर बधाई दी है. उन्‍होंने जॉनसन के अपनी फोटो को भी ट्वीट किया है. Also Read - DGCA ने इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर अगले महीने तक लगाई रोक

पैलेस द्वारा जारी किए गए एक फोटो में जॉनसन 93 वर्षीय महारानी से हाथ मिलाते नजर आ रहे हैं. जॉनसन अब प्रधानमंत्री के रूप में डाउनिंग स्ट्रीट की सीढि़यों से प्रधानमंत्री के रूप में अपना पहला भाषण देंगे और देश के बारे में अपने नजरिये को पेश करेंगे. वहीं, प्रधानमंत्री टेरेसा मे बुधवार को दिन में ही महारानी को औपचारिक रूप से अपना इस्तीफा सौंप दिया था. Also Read - देश के इस राज्‍य में कोरोना वायरस के संक्रमण से अब हुई पहली मौत

मोदी ने ट्वीट किया, ”मैं आपकी सफलता की कामना करता हूं और सभी क्षेत्रों में भारत और ब्रिटेन की साझेदारी को मजबूत करने के लिए मुझे आपके साथ काम करने का इंतजार है”.

मंगलवार को कंजरवेटिव पार्टी के नए मुखिया और चयनित प्रधानमंत्री घोषित किए जाने के बाद जॉनसन ने कहा था, हम देश में नई उर्जा का संचार करेंगे . हम 31 अक्‍टूबर तक ब्रेग्जिट को भी अमलीजामा पहना देंगे. और इससे हमें जो भी नए अवसर मिलेंगे, हम उनका पूरा फायदा उठाएंगे. जॉनसन ने इसके साथ ही कहा था, मूलमंत्र बेग्जिट को अंजाम देना है, देश को एकजुट करना है और जेरेमी कोर्बिन (लेबर नेता) को शिकस्त देना है.

ब्रेग्जिट रणनीति पर तीन बार संसद में हार का सामना करने के बाद पूर्व प्रधानमंत्री टेरेसा मे को अपनी ही पार्टी के भीतर से भारी विरोध का सामना करना पड़ा था और इसी के चलते उन्हें पद से इस्तीफा भी देना पड़ा. उन्होंने बुधवार को दिन में ही महारानी को औपचारिक रूप से अपना इस्तीफा सौंप दिया था.