नई दिल्ली: मैपल असिस्ट इंक ने छात्रों के लिए वन स्टॉप सॉल्यूशन के लिए एक मोबाइल एप्लीकेशन तैयार किया है, जिससे कनाडा में उच्च शिक्षा ग्रहण करने की ख्वाहिश रखने वाले लाभान्वित होंगे. कनाडा के इनोवेशन, साइंस और इकनॉमिक डेवलपमेंट मंत्री नवदीप बैंस के हाथों गुरुवार को मैपल ऐप लॉन्च किया गया.

मैपल असिस्ट ऐप के संस्थापक और सीईओ विनय चौधरी ने कहा कि ऐप में छात्रों को कनाडा के कॉलेजों और यूनिवर्सिटी के बारे में अपेक्षित जानकारी मिलेगी. यह ऐप भारत में विकसित किया गया. मैपल असिस्ट ऐप को ओंटारियो के 4 प्रमुख कॉलेजों, डरहम कॉलेज, फैनशॉव कॉलेज, जार्जियन कॉलेज और सेंट क्लेयर कॉलेज का समर्थन हासिल है. चौधरी ने कहा कि कनाडा में खुद इंटरनेशनल स्टूडेंट होने के नाते उन्होंने विदेश में शिक्षा ग्रहण करने के तनाव को काफी झेला है.

उन्होंने कहा, ‘मैपल असिस्ट ऐप कनाडा में पढ़ने की इच्छा रखनेवाले दुनिया भर के संभावित स्टूडेंट्स को तनाव मुक्त और सुहाने सफर के लिए सारी जानकारी उनकी फिंगर टिप्स पर मुहैया कराएगा. उम्मीद है कि मैपल असिस्ट ऐप आने वाले सालों में कनाडा के कई और कॉलेजों और यूनिवर्सिटी को अपना साझीदार बनाएगा.’ इस अवसर पर फैनशॉव कॉलेज में इंटरनेशनल रिक्रूटमेंट एंड मार्केट डेवलपमेंट के मैनेजर और ऐप के पहले एडॉप्टर सौरभ मल्होत्रा ने ऐप के फीचर्स का विस्तृत विवरण पेश किया.

लॉन्चिंग समारोह में जॉर्जियन कॉलेज में इंटरनेशनल, वर्कफोर्स डेवलपमेंट और पार्टनरशिप के वाइस प्रेसिडेंट केविन वीवर और डरहम कॉलेज में इंटरनेशनल एजुकेशन के डीन मार्क हैरिंगर ने उपस्थित लोगों को संबोधित किया.

इस अवसर पर एयर कनाडा के कंट्री हेड अरुण पांड्या, आईसीबीसी की सीईओ नादिरा हमीद और एचडीएफसी क्रेडिलिया के कंट्री सेल्स मैनेजर हितेश पाराशर भी मौजूद थे. कनाडा में भारतीय उच्चायोग का प्रतिनिधित्व अनुज भसीन ने किया.