ब्राउंसविले (अमेरिका): डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को एक लिफ़ाफ़े में ज़हरीला रसायन भेजने वाले महिला के खिलाफ आरोप तय कर लिए गये हैं. व्हाइट हाउस को भेजे पत्र में फेरियर ने ट्रंप को ‘‘बदसूरत तानाशाह जोकर’’ बताया था और उनसे तुरंत पद छोड़ने के लिए कहा था. व्हाइट हाउस और टेक्सास की कई कानून प्रवतन एजेंसियों को डाक के जरिए खतरनाक जहरीला रसायन रिसिन भेजने के मामले में एक कनाडाई महिला के खिलाफ खतरा पैदा करने और जैविक हथियारों के इस्तेमाल पर प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के आरोप लगाए गए हैं. Also Read - बाइडेन सरकार का बड़ा फैसला, यूएस आने वाले हर नागरिक को कराना होगा कोविड की जांच और पृथक वास में रहना होगा जरूरी

अभियोजन ने बताया कि टेक्सास के ब्राउंसविले में ग्रैंड ज्यूरी ने सुनवाई के दौरान पास्केल फेरियर के खिलाफ 16 आरोप लगाए गए. कनाडा के मांट्रियल इलाके की 53 वर्षीय निवासी फेरियर उन्हीं आरोपों के तहत वाशिंगटन में संघीय अधिकारियों की हिरासत में है. Also Read - PM मोदी ने Joe Biden को दी बधाई, Tweet कर कहा- 'साथ में काम करने को उत्साहित'

फेरियर के वकील ने हाल में लगाए गए आरोपों पर कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की. आगामी दिनों में महिला की ब्राउंसविले में एक न्यायाधीश के समक्ष पेशी की संभावना है. फेरियर को अमेरिका-कनाडा की सीमा पर गिरफ्तार किया गया था. उसने व्हाइट हाउस को रिसिन वाला लिफाफा भेजकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को नुकसान पहुंचाने की साजिश के आरोपों को कबूल नहीं किया था. Also Read - Joe Biden अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बने, Kamala Harris ने ली उपराष्ट्रपति पद की शपथ

फेरियर पर यह भी आरोप लगा है कि उसने छह हिरासत केंद्रों और टेक्सास में रियो ग्रांड वैली में कानूनी एजेंसियों के दफ्तर में रिसिन के कुछ पैकेट भेजे थे. हालांकि, इन पैकेटों के संपर्क में आकर कोई अस्वस्थ नहीं हुआ था. संघीय जांच एजेंसी एफबीआई के हलफनामे के मुताबिक व्हाइट हाउस को भेजे पत्र में फेरियर ने ट्रंप को ‘‘बदसूरत तानाशाह जोकर’’ बताया था और उनसे तुरंत पद छोड़ने के लिए कहा था. व्हाइट हाउस तक पहुंचने से पहले ही पैकेट को कब्जे में ले लिया गया था.