नई दिल्ली: भारत चीन सीमा विवाद के बाद भारत सरकार द्वारा चीनी एप्स के खिलाफ उठाए गए कड़े कदम से चीन बौखला गया है. अब उसने भारत के इस कदम के खिलाफ अपनी प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी है. भारत सरकार ने भारत की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 59 चाइनीज ऐप पर बैन लगा रखा है इससे चीन तिलमिला उठा है. चीन ने बदले की भावन से ZEE मीडिया ग्रुप के अंतरराष्‍ट्रीय चैनल WION की वेबसाइट www.wionews.com को अपने यहां पूरी तरह से ब्‍लॉक कर दिया है.Also Read - चीन में तूफान इन-फा ने दस्‍तक दी , हेन्‍नान में 1000 सालों में सबसे अधिक बारिश, बाढ़ से 63 मौतें

अब चीन की मुख्य धरती के किसी भी भाग से इस वेबसाइट को एक्सेस नहीं किया जा सकता. चीन के WION से पुरानी खुन्नश है क्योंकि इस चैनल ने कई बार अपनी निष्पक्ष रिपोर्टिंग के जरिए चीन के कई मामलो को दुनिया के सामने उजागर किया है. Also Read - Tokyo Olympics का पहला स्वर्ण पदक चीनी निशानेबाज यांग कियान के नाम हुआ

चीन में इंटरनेट को मॉनीटर करने वाली संस्‍था GreatFire.org ने इस बात कि पुष्टि करते हुए कहा है कि WION को चीन में अब पूरी तरह से ब्‍लॉक कर दिया गया है. GreatFire.org एक ऐसे डाटाबेस के रूप में उभरा है जो चीन द्वारा अंतरराष्‍ट्रीय मीडिया संस्‍थानों को की जा रही इंटरनेट सेंशरशिप पर नजर रखता है. इसके माध्‍यम से रिसर्चर चीन में जारी डिजिटल सेंसरशिप को ट्रैक कर पाते हैं. Also Read - चीन में अब बंदर से फैलने वाले वायरस का खौफ, चपेट में आए एक व्यक्ति की मौत

दुनिया भर के देश विश्व भर में कोरोना फैलाने का जिम्मेदार चीन को मानते हैं कुछ देशों ने तो उस पर केस तक दर्ज किया हुआ है. अब जब वह चारो तरफ से घिरा हुआ है तो वह दुनिया को सीमा विवाद में भटकाने की कोशिश कर रहा है ताकि लोगों का ध्यान कोरोनावायरस की तरफ से हट जाए. चीन कोरोना को लेकर कई बार झूठ बोल चुका है और उसके इस झूठ का भी खुलासा WION ने कई बार किया है. चीन कई बार अंतरराष्ट्रीय मंच में WION की आलोचना भी कर चुका है.