बीजिंग: चीन ने विमान वाहक लड़ाकू कैडेट पायलटों की भर्ती को दोगुना करने की योजना बनाई है, क्योंकि इसका लक्ष्य तेजी से बढ़ रहे विमान वाहन बेड़े के लिए कर्मियों की पर्याप्त संख्या सुनिश्चित करना है. सरकारी मीडिया ने मंगलवार को यहां एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी. बता दें कि 2030 तक चीन के पास 5 से 6 विमान वाहक युद्धक पोतों का बेड़ा होगा.

सरकारी ग्लोबल टाइम्स की खबर के मुताबिक, इस वर्ष चीन के दूसरे विमानवाहक पोत के व्यापक रूप से पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) नौसेना में शामिल होने की उम्मीद है. भर्ती अभियान विमान वाहक के लड़ाकू जेट जे-15 की जरूरतों को पूरा करने के लिए है.

हमले में चीन के परमाणु हथियार नष्ट करना है मुश्किल, ऐसी तैयार की है मजबूत ‘वॉल ऑफ स्टील’

चार हजार पांच सौ से अधिक चीनी छात्रों ने भर्ती कार्यक्रम में प्रारंभिक चयन प्रक्रिया पास कर ली है, जो कि पिछले साल की तुलना में लगभग दोगुनी है. रिपोर्ट के अनुसार अगले चरण में नामांकन परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले 4,500 से अधिक छात्र भाग लेंगे.

चीन की ऊंची छलांग, चंद्र रोवर चांग ई-4 पता लगाएगा चंद्रमा पर रातें क्यों होती हैं सर्द

रिपोर्ट के मुताबिक चीन के दूसरे विमान वाहक, टाइप 001 ए को व्यापक रूप से इस वर्ष पीएलए नौसेना में शामिल किए जाने की उम्मीद है और चीन में 2030 तक 5 से 6 विमान वाहक का बेड़ा होगा.