बीजिंग: भारत के पडोसी देश चीन ने आज चेतावनी दी है कि अगर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के व्यापार युद्ध छेड़ने से सभी का नुकसान होगा. चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने यह सख्त संदेश ऐसे समय दिया है जबकि ट्रंप प्रशासन औपचारिक तौर पर इस्पात तथा एल्युमीनियम पर आयात शुल्क लागू करने जा रहा है. हालांकि, वैश्विक स्तर पर इसको लेकर चिंता जताई जा रही है. आधिकारिक आंकड़ों से पता चलता है कि एशिया की इस ताकत का अमेरिका के साथ अच्छा- खासा व्यापार अधिशेष है. Also Read - अमेरिकी सांसद का दावा, चीन को हराना है तो भारत को 'शक्तिशाली' बनाना होगा

इस बीच, वाशिंगटन से मिली खबरों में कहा गया है कि ट्रंप इस बारे में कार्यकारी आदेश पर आज हस्ताक्षर करेंगे. वांग यी ने कहा, ‘‘ व्यापार युद्ध छेड़ना वास्तव में गलत इलाज है। अंत में आप दूसरों को तो नुकसान पहुंचाएंगे ही, साथ ही खुद को भी नुकसान पहुंचाएंगे. Also Read - वैज्ञानिकों ने किया खुलासा, बताया आखिर किस तरह से जानवर से मनुष्य में पहुंचता है कोरोना वायरस

वांग ने यह भी कहा कि चीन इस पर उचित और जरूरी प्रतिक्रिया देगा. चीन ने कल विश्व व्यापार संगठन में18 सदस्य देशों की अगुवाई करते हुए ट्रंप से इस प्रस्तावित शुल्क को रद्द करने की मांग की. उसके प्रतिनिधियों ने कहा कि इस तरह के शुल्क से नियम आधारित वैश्विक व्यापार प्रणाली प्रभावित होगी. Also Read - हर साल 45 करोड़ डॉलर देने वाले अमेरिका ने WHO से तोड़े रिश्ते, डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा- ये चीन की कठपुतली है

उल्लेखनीय है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने इस्पात के आयात पर 25 प्रतिशत तथा एल्युमीनियम आयात पर10 प्रतिशत शुल्क लगाने का प्रस्ताव किया है.

भाषा