बीजिंग: चीन ने मंगलवार को भारत और पाकिस्तान से ‘संयम बरतने’ का आह्वान किया और नयी दिल्ली से आतंकवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई अंतरराष्ट्रीय सहयोग के जरिए जारी रखने को कहा. चीन की यह टिप्पणी तड़के पाकिस्तान में आतंकी गुट जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े शिविर पर भारतीय लड़ाकू विमानों के हमले के कुछ घंटे बाद आई है. Also Read - विदेश मंत्रालय का बड़ा बयान, सीमावर्ती क्षेत्रों में विवाद शांति से हल करने के लिए भारत-चीन सहमत हुए

Also Read - पूर्वी लद्दाख गतिरोध: भारत-चीन के बीच साढ़े 3 घंटे तक क्या बातचीत हुई? सेना ने ड्रैगन को बताई उसकी 'सीमा'

भारतीय वायुसेना ने पाकिस्‍तान में Terror Camps को किया तबाह, जानें अब तक का पूरा घटनाक्रम Also Read - चीन को निशाना बनाने पर अमूल का अकाउंट किया बंद! लोगों के गुस्से के बाद ट्विटर ने दी सफाई

पाकिस्तान में आतंकवादी शिविरों पर भारत के हवाई हमलों के संबंध में चीन की प्रतिक्रिया पूछे जाने पर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने यहां मीडिया से कहा कि हमने संबंधित खबरों को देखा है. उन्होंने कहा कि मैं कहना चाहता हूं कि भारत और पाकिस्तान दक्षिण एशिया में दो महत्वपूर्ण देश है. दोनों के बीच मधुर संबंध और सहयोग दोनों देशों के हित में है और दक्षिण एशिया में शांति और स्थिरता के लिए भी अहम है.

पुलवामा आतंकी हमले का बदला लेने पर देशभर ने किया भारतीय वायुसेना को सलाम

उन्होंने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि भारत और पाकिस्तान संयम बरतेंगे तथा अपने द्विपक्षीय रिश्तों को परस्पर और मजबूत करेंगे.

Indian Army ने गुजरात सीमा के पास पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया