Corona Pandemic In India: गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई और माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते संकट का सामना कर रहे भारत की मदद का आश्वासन दिया है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार भारत में एक दिन में कोविड-19 के 3,52,991 नए मामले आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,73,13,163 हो गई है जबकि 2,812 लोगों की मौत के बाद मृतकों की तादाद 1,95,123 तक पहुंच गई है.Also Read - Microsoft CEO: जन्म के वक्त नहीं रोया था बेटा, सत्या नडेला ने ब्लॉग में बताई थी पूरी कहानी

गूगल के भारतीय मूल के सीईओ पिचाई ने ट्वीट किया, ‘भारत में बदतर होते कोविड संकट को देखकर दुखी हूं. चिकित्सा उपकरणों की आपूर्ति, उच्च जोखिम वाले वर्गों की मदद कर रहे संगठनों की सहायता और महत्वपूर्ण सूचना के प्रसार में मदद के लिये गूगल गिव इंडिया और यूनीसेफ को 135 करोड़ रुपये का अनुदान प्रदान कर रही है.’ Also Read - Microsoft के सीईओ सत्या नडेला के बेटे का निधन, महज 26 साल थी उम्र

माइक्रोसॉफ्ट के भारतीय मूल के सीईओ नडेला ने कहा कि उनकी कंपनी राहत कार्यों और ऑक्सीजन उपकरण खरीदने में सहयोग के लिये अपने संसाधनों और तकनीक का इस्तेमाल करती रहेगी. नडेला ने कहा कि भारत में कोरोना वायरस से उत्पन्न मौजूदा स्थिति को देखकर उनका ‘दिल टूट’ गया है. Also Read - Microsoft CEO सत्या नडेला के बेटे का 26 साल की उम्र में निधन, इस गंभीर बीमारी से थे पीड़ित

उन्होंने कहा, ‘भारत में मौजूदा हालात से मेरा दिल टूट गया है. मैं शुक्रगुजार हूं कि अमेरिका सरकार मदद कर रही है. माइक्रोसॉफ्ट राहत कार्यों में अपनी पहुंच, संसाधनों और तकनीक का इस्तेमाल करती रहेगी और महत्वपूर्ण ऑक्सीजन संकेंद्रण उपकरण खरीदने में मदद करेगी.’

वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने भारत को घातक कोरोना वायरस संकट से निपटने में मदद देने के लिए आवश्यक चिकित्सकीय जीवनरक्षक आपूर्तियों और उपकरण समेत हर तरह का सहयोग देने का आश्वासन दिया है.

बाइडन ने एक ट्वीट में कहा, ‘वैश्विक महामारी की शुरुआत में हमारे अस्पतालों पर दबाव बढ़ने के दौरान जिस तरह भारत ने मदद भेजी थी, उसी तरह हम भी जरूरत की इस घड़ी में भारत की मदद के लिए दृढ़ हैं.”

हैरिस ने ट्वीट किया, “अमेरिका कोविड-19 के चिंताजनक प्रकोप के दौरान अतिरिक्त सहयोग एवं आपूर्तियां भेजने के लिए भारतीय सरकार के साथ करीब से काम कर रहा है. सहायता देने के साथ ही हम भारत के निडर स्वास्थ्यकर्मियों समेत उसके नागरिकों के लिए प्रार्थना भी कर रहे हैं.”

न्यूयॉर्क में जेकेएफ हवाई अड्डे पर भारतीय वायुसेना का विमान 318 फिलिप्स ऑक्सीजन संकेंद्रक लेकर नयी दिल्ली रवाना हो गया.

इस सप्ताह, यूएस चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन के साथ सीईओ प्रतिनिधिमंडल की बैठक की मेजबानी करने वाला है, जिसके बाद 27 अप्रैल को भारत के कोविड-19 संकट और कारोबारी समुदाय किस तरह मदद कर सकता है, इस विषय एक ब्रीफिंग होगी.

यूएस चैम्बर्स ऐंड चैम्बर फाउंडेशन ने भारत के कोविड-19 संकट को लेकर एक पेज तैयार किया है, जिसमें तत्काल जरूरी आपूर्तियों और जमीन पर काम कर रहे मानवीय संगठनों के बारे में जानकारी दी गई है.

चैम्बर्स ने रविवार को अपने सदस्यों को भेजे ई-मेल में कहा, ‘हम एक पोर्टल तैयार कर रहे हैं जिसके जरिये अमेरिकी कंपनियां प्रत्यक्ष रूप से सहयोग और संसाधनों की पेशकश कर सकेंगी. जल्द ही इस संबंध में विस्तृत जानकारी दी जाएगी.’