Corona Virus Lockdown: कोरोना ने अब अपना पैर पसारना शुरू कर दिया है. कोरोना के बढ़ते कहर के बीच ब्रिटेन के बाद अब जर्मनी ने भी देश में दोबारा सख्त लॉकडाउन लागू करने का फैसला किया है. कोरोना वायरस के खतरे को बढ़ता देख जर्मनी की सरकार ने देशव्यापी लॉकडाउन बढ़ाने का एलान किया है, जिसमें पूरी तरह से सख्ती बरती जाएगी. जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने इसे लेकर बयान जारी किया है.Also Read - पश्चिम बंगाल में कोरोना प्रतिबंधों में छूट, फिल्मों की शूटिंग, जिम खोलने की अनुमति, ये होंगी शर्तें

जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने कहा कि हम महीने के अंत तक अपने राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन का विस्तार कर रहे हैं और कोरोना वायरस महामारी पर अंकुश लगाने के लिए पूरे देश में अब सख्त और नए प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं. Also Read - Burans Phool ke Fayde: बुरांश का फूल Corona रोकने में सक्षम, IIT के शोधकर्ताओं का बड़ा दावा

बता दें कि कोरोना महामारी शुरू होने के बाद 30 दिसंबर 2020 को पहली बार जर्मनी में एक दिन में संक्रमण से 1000 से अधिक मौतें हो गई थीं. राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र रॉबर्ट कोच इंस्टीट्यूट ने बताया था कि बुधवार को 1129 मौतें हुईं थीं जिसके बाद सरकार की परेशानी बढ़ गई है. कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन का फैसला लिया गया है. Also Read - Delhi Weekend Curfew: नियम तोड़ते हुए पकड़े गए लोग, 1320 के खिलाफ मुकदमा दर्ज

बुधवार से एक सप्ताह पहले एक दिन में जर्मनी में 962 मौतें हुई थीं. इन मौतों के साथ जर्मनी में कोविड-19 से मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 32107 तक पहुंच गई थी.

जर्मनी में महामारी की पहली लहर में अपेक्षाकृत कम मृत्यु दर थी, लेकिन दूसरी लहर में हाल के हफ्तों में प्रतिदिन सैकड़ों मौतें हो रही हैं. प्रमुख यूरोपीय देशों में इटली, ब्रिटेन, फ्रांस और स्पेन में अभी भी मरने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है.

पहले जर्मनी में 16 दिसंबर को स्कूलों और अधिकतर दुकानों को बंद किए जाने के साथ ही व्यापक स्तर पर प्रतिबंध लगाए गए, जो 10 जनवरी तक लागू रहेंगे. अब इन प्रतिबंधों को और आगे बढ़ा दिया गया है. जर्मनी में अब तक कुल मिलाकर कोरोना वायरस से संक्रमण के 16.9 लाख मामले सामने आ चुके हैं.

इससे पहले ब्रिटेन में  एक दिन में संक्रमण के सबसे अधिक 60,196 नए मामले सामने आए हैं. प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ब्रिटेन में कोरोना वायरस संक्रमण के नए स्वरूप के तेजी से फैलने के चलते सोमवार को एक बार फिर राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू करने की घोषणा की थी.

जॉनसन ने 10 डाउनिंग स्ट्रीट से प्रेस ब्रीफिंग को संबोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) 13 लाख लोगों को फाइजर/बायोएनटेक तथा ऑक्सफॉर्ड/एस्ट्राजेनेका टीके लगा चुकी है. लॉकडाउन के दौरान इसमें और तेजी लाई जाएगी और पूरे देश में सख्त लॉकडाउन जारी किया गया है.