इस्लामाबाद: कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को 1.6 से 6.1 करोड़ डॉलर तक का नुकसान उठाना पड़ सकता है. एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने एक अनुमानित रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी है. एडीबी की ओर से शुक्रवार को प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि सीओवीआईडी-19 के बढ़ते संक्रमण के चलते ‘संभावित सबसे बुरे परिदृश्य’ में हालात ऐसे ही बने रहने पर पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को पांच अरब डॉलर का नुकसान होगा और देश की जीडीपी 1.57 प्रतिशत से घटेगी और साथ ही देश में 94,60,00 लोग बेरोजगार हो जाएंगे. Also Read - COVID-19: गाजियाबाद में कोरोना के 10 नए मामले, जिले में संक्रमित लोगों की संख्या 23 हुई

रिपोर्ट में कहा गया है कि वैश्विक जीडीपी भी इससे अछूता नहीं रहेगा. सबसे अच्छे परिदृश्य में भी वैश्वित जीडीपी 77 अरब डॉलर प्रभावित होगा और सबसे बुरे परिदृश्य में वैश्विक जीडीपी 347 अरब डॉलर तक प्रभावित होगा, जो वैश्विक जीडीपी का 0.1 से 0.4 प्रतिशत है. वहीं प्रभावित होने वाले देशों की बात करें तो चीन सबसे अधिक प्रभावित होगा. द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने रिपोर्ट के हवाले से कहा है कि सबसे अच्छे परिदृश्य में पाकिस्तान को कुल 1.623 करोड़ डॉलर का नुकसान उठाना पड़ेगा. इसमें कृषि और खनन क्षेत्र में 55 लाख डॉलर, बिजनेस ट्रेड-पर्सनल एंड पब्लिक सर्विस में 55.4 लाख डॉलर, होटल्स एंड रेस्टोरेंट्स में 6.7 लाख डॉलर, लाइट एंड हेवी मैन्युफैक्चरिंग में 36 लाख डॉलर और ट्रांस्पोर्ट सर्विस में 9.2 लाख डॉलर का नुकसान होगा. Also Read - लॉकडाउन: दिल्ली में बिना राशन कार्ड वालों को भी मिलेगा 5 किलो राशन, केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला

इटली में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 233 हुई, करीब 6000 लोग संक्रमित Also Read - प्रियंका गांधी ने योगी सरकार के लिए सुबह किया Tweet, शाम तक 26 हेल्थ वर्कर्स को फिर मिली नौकरी

मध्यम परिदृश्य में पाकिस्तान को होने वाला अनुमानित नुकसान 3.42 करोड़ डॉलर है. वहीं सबसे बुरे परिदृश्य में पाक को कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण के चलते 6.08 करोड़ डॉलर का नुकसान उठाना पड़ सकता है.