बीजिंग: चीन ने रविवार को घोषणा की कि कोरोना वायरस के संक्रमण के नए मामलों में उल्लेखनीय कमी आई है. इस बीच, अब तक इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या 1,665 तक पहुंच गई है. वहीं, संक्रमण के प्रसार को रोकने में बीजिंग की मदद के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की टीम भी पहुंच गई है. Also Read - बॉलीवुड प्रोड्यूसर करीम मोरानी को हुआ कोरोना, अस्‍पताल में भर्ती

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) के मुताबिक शनिवार को 142 मौतों के साथ अब तक कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 1,665 पहुंच गई है और इनमें से भी अधिकतर मौतें सबसे अधिक प्रभावित हुबेई प्रांत में हुई हैं. इस प्रकार संक्रमित लोगों की संख्या 68,500 हो गई है. एनएचसी ने पुष्टि की है कि 2,009 नए मामले देश में दर्ज किए गए हैं, जिनमें अकेले हुबेई प्रांत और उसकी राजधानी में 1,843 नए मामले दर्ज किए गए हैं. हुबेई में कोरोना वायरस से संक्रमण के 56,249 मामलों की पुष्टि हो चुकी है. सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक शनिवार को हुई मौतों में अकेले 139 हुबेई प्रांत में हुई है जबकि दो मौतें सिचुआन और एक मौत हुनान प्रांत में हुई है. Also Read - वुहान में भारतीयों ने कहा- कोरोना से निपटने को सख्त लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग ही एकमात्र रास्ता, वरना...

एनएचसी ने बताया कि अब तक 9,419 संक्रमित लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई है. आयोग ने घोषणा की है कि कोरोना वायरस के मामलों में पूरे चीन में उल्लेखनीय कमी आई है. एनएचसी के प्रवक्ता मी फेंग ने बताया कि महामारी के केंद्र वुहान में संक्रमित और उससे गंभीर रूप से बीमार लोगों के अनुपात में उल्लेखनीय कमी आई है और 28 जनवरी के 32.4 प्रतिशत के मुकाबले 15 फरवरी को यह अनुपात 21.6 प्रतिशत रह गया है. मी ने बताया कि हुबेई प्रांत के अन्य हिस्सों में भी गंभीर रूप से बीमार संक्रमितों के अनुपात में कमी आई है. 27 जनवरी को जहां 18.4 फीसदी संक्रमित गंभीर हालत में लाए गए वह घटकर 15 फरवरी को 11.1 प्रतिशत रह गया. Also Read - कोरोना वायरस: मध्य प्रदेश में 24 घंटे में 72 नए मामले मिले, संक्रमितों की संख्या 385 हुई, अब तक 29 की मौत

मी ने बताया कि चीन के अन्य प्रांतों में भी हालात में सुधार हुआ है और 27 जनवरी के 15.9 प्रतिशत के मुकाबले 15 फरवरी को गंभीर मरीजों का अनुपात 7.2 प्रतिशत रहा. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ)के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों का 12 सदस्यीय दल चीन पहुंच चुका है और चीनी अधिकारियों के साथ संक्रमण को समझने का काम कर रहा है. ट्रडोस ने चीन के विदेशमंत्री वांग यि से भी म्यूनिख सुरक्षा सम्मेलन में मुलाकात की. एनएचसी ने बताया कि डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों का संयुक्त दल तीन प्रांतों में जाएगा और कोरोना वायरस की महामारी से निपटने के लिए उठाए गए कदम के अनुपालन और प्रभाव का आकलन करेगा. आयोग ने कहा कि संयुक्त दल का लक्ष्य चीन में कोरोना वायरस के बचाव और नियंत्रण के लिए सुझाव देना है.