बीजिंगः बीजिंग में अधिकारी कोविड-19 विशेष अस्पताल में भर्ती सभी मरीजों के स्वस्थ होने के बाद इसे बंद करने वाले हैं जबकि चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के छह नये मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य अधिकारियों ने 40 ऐसे मामलों की भी मंगलवार को जानकारी दी जो संक्रमित हैं लेकिन उनमें लक्षण नहीं हैं. Also Read - लॉकडाउन नहीं बढ़ा; वर्क फ्रॉम होम रहेगा या नहीं, ऑफिस-स्कूल-कॉलेज खोलने के लिए क्या हैं नियम, 20 पॉइंट्स में जानें

अस्पताल को बंद करने का यह कदम तब उठाया गया है जब चीन में कोरोना वायरस के केंद्र वुहान ने हाल में 16 अस्थायी अस्पतालो को बंद किया और अपने अंतिम मरीज को रविवार को छुट्टी दी. आधिकारिक मीडिया ने खबर दी कि बीजिंग के शियाओतांगशन हॉस्पिटल ने कोविड-19 के सभी मरीजों के स्वस्थ होने के बाद उन्हें मंगलवार को छुट्टी दे दी और बुधवार से इसका संचालन बंद कर दिया जाएगा. Also Read - अमेरिकी सांसद का दावा, चीन को हराना है तो भारत को 'शक्तिशाली' बनाना होगा

शहर के उत्तरी उपनगर में स्थित इस अस्थायी अस्पताल की मरम्मत कर कोविड-19 मरीजों, संदिग्ध मरीजों और अन्य की जांच एवं इलाज के लिए 16 मार्च से इसका संचलान शुरू किया गया था. Also Read - जानवरों से इंसानों में कैसे पहुंचा कोरोना वायरस, आखिरकार रिसर्च में हुआ खुलासा

इसका निर्माण 2003 में सार्स (सीवियर एक्यूटर रेस्पिरेटरी सिंड्रोम) के मरीजों के इलाज के लिए किया गया था. उस वक्त, इसका निर्माण एक हफ्ते के भीतर कर लिया गया था. बीजिंग में कुल मिलाकर कोरोना वायरस के 593 मामले हैं और नौ लोगों की मौत हुई है. अधिकारियों के मुताबिक 536 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हुए.

इस बीच, देश के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने मंगलवार को कहा कि सोमवार को छह नये मामलों की पुष्टि हुई जिनमें से तीन विदेश से संक्रमित होकर आए लोग हैं. आयोग ने अपनी नियमित रिपोर्ट में बताया कि अन्य तीन मामले हीलोंगजियांग प्रांत में घरेलू स्तर पर फैले संक्रमण के हैं.

कोरोना वायरस से चीन में कुल 4,633 लोगों की मौत हुई है. सोमवार तक, चीन में संक्रमितों की कुल संख्या 82,836 थी जिनमें से 648 लोगों का अब भी इलाज चल रहा है जबकि 77,555 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.