सिंगापुर: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए भारत के यात्रा प्रतिबंधों के कारण करीब 100 भारतीय यात्री सिंगापुर के चांगी हवाईअड्डे पर फंसे हुए हैं और स्वदेश लौटने में असमर्थ हैं. सिंगापुर में भारतीय उच्चायोग ने बृहस्पतिवार को बताया कि वह 97 फंसे भारतीयों को विमान से भारत लाने का प्रबंध करने की दिशा में काम कर रहा है. उसने बताया कि इन भारतीय यात्रियों में अधिकतर फिलीपीन और मलेशिया से आए हैं.Also Read - Atal Bimit Vyakti Kalyan Scheme: बेरोजगारों को सरकार ने 3 महीने तक दिया पैसा, कोरोना काल में गई नौकरी तो 30 दिनों के अंदर करें दावा

उच्चायोग ने बताया कि सिंगापुर ने आसियान क्षेत्र से या वहां से होकर आने वाले यात्रियों पर यात्रा प्रतिबंध लगाए हैं जिसके कारण यात्री सिंगापुर में प्रवेश नहीं कर सकते. सिंगापुर में भारत के उच्चायुक्त जावेद अशरफ ने बृहस्पतिवार को कहा, ‘‘हम इन भारतीयों को उनके घर वापस ले जाने का प्रबंध करने के लिए विदेश मंत्रालय एवं नागर विमानन मंत्रालय के साथ मिलकर काम कर रहे हैं.’’ Also Read - IIMC के महानिदेशक संजय द्विवेदी का बयान, बोले- कोरोना के खिलाफ जंग में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका

अशरफ ने कहा, ‘‘हम एयर इंडिया, सिंगापुर एयरलाइंस और चांगी हवाईअड्डे के साथ भी मिलकर काम कर रहे हैं ताकि इन फंसे यात्रियों को वापस भारत लाया जा सके और उन्हें मदद मुहैया कराई जा सके.’’ चांगी हवाईअड्डे पर उच्चायोग के अधिकारी 97 यात्रियों को भोजन एवं अन्य सहायता मुहैया करा रहे हैं. इनमें से अधिकतर यात्री मलेशिया से आए हैं. मलेशिया ने अपनी सीमाएं बंद कर दी हैं और विदेशियों को प्रवेश करने से रोक दिया है. उसने अपने नागरिकों से भी यात्रा नहीं करने को कहा हैं Also Read - Coronavirus Cases in USA: अमेरिका में कोरोना के डेल्टा वेरिएंट का कहर, 1 दिन में 1 लाख से अधिक लोग संक्रमित

भारत ने भी मलेशिया और फिलीपीन समेत कुछ देशों से यात्रियों के आगमन पर रोक लगा दी है. सिंगापुर एयरलाइंस ने फंसे यात्रियों को भारत ले जाने पर सहमति जताई है क्योंकि बृहस्पतिवार को एयर इंडिया की कोई उड़ान सिंगापुर से भारत जाने के लिए निर्धारित नहीं है. दिल्ली प्रशासन भारत में इन यात्रियों के प्रवेश के प्रबंध कर रहा है. विश्व भर के 157 देशों और क्षेत्रों में इस संक्रमण के कारण 8,809 लोगों की मौत हो चुकी है और 2,18,631 लोग इससे संक्रमित हैं.