जिनेवा: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने बुधवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी के वैश्विक स्तर पर फैलने और हाल में तेजी से बढ़े मामलों पर वह चिंतित है. Also Read - Coronavirus/Lockdown in Bihar Updates: बिहार में 24 घंटे में 1,320 नए मरीज, संक्रमितों की संख्या 20 हजार के पार, लागू हुआ लॉडाउन

डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेडरोस एडहानोम घेब्रेयासस ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘पिछले सप्ताह मृतकों की संख्या दोगुनी से ज्यादा हो गयी…अगले कुछ दिनों में संक्रमित लोगों की संख्या 10 लाख और मृतकों की संख्या 50,000 हो सकती है.’’ Also Read - शिखर धवन के बेटे Zoraver इस नए दोस्त के साथ बिता रहे ज्यादा समय, जानिए कौन है वो

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने भी कोरोना वायरस को द्वितीय विश्व युद्ध के बाद सबसे बड़ी चुनौती करार देते हुए कहा है कि यह महामारी न केवल लोगों की जान ले रही है बल्कि आर्थिक मंदी की ओर भी ले जा रही है. उन्होंने कहा कि हालिया इतिहास में ऐसा भयानक संकट नहीं पैदा हुआ था. जान्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के अनुमानों के अनुसार, दुनिया में कोरोना वायरस के 8,50,500 पुष्ट मामले सामने आए हैं और 41,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अमेरिका में अब दुनिया के सर्वाधिक 1,84,183 मामले हैं और यहां मरने वालों का आंकड़ा चार हजार को पार कर गया है. Also Read - HRD मंत्री ने कम लागत वाली Covid-19 टेस्ट किट का किया शुभारंभ,  IIT दिल्ली ने इसे किया विकसित 

गुतारेस ने मंगलवार को ‘‘साझी जिम्मेदारी, वैश्विक एकजुटता: सामाजिक आर्थिक प्रतिक्रिया’’ विषय पर एक रिपोर्ट साझा करते हुए कहा, ‘‘ संयुक्त राष्ट्र के पिछले 75 सालों के इतिहास में ऐसा संकट पहले नहीं देखा गया. हम उसका सामना कर रहे हैं – ऐसा संकट जो लोगों की जान ले रहा है, इंसान को पीड़ा दे रहा है, लोगों की जिंदगी को दुरूह कर रहा है.’’