Coronavirus Death Toll: चीन में घातक कोरोना वायरस से संक्रमित 64 और लोगों की सोमवार को मौत हो जाने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 425 हो गई और इसके 20,438 मामलों की पुष्टि हुई है. चीन राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि सोमवार को जिन 64 लोगों की मौत हुई वे सभी हुबेई प्रांत से थे. आयोग ने बताया कि 3,235 नए मामलों की भी पुष्टि हुई है. नए 5,072 संभावित मामले सामने आए हैं. 492 मरीज गंभीर रूप से बीमार हैं. Also Read - Coronavirus Cases in Delhi: 13,468 नए मामले, 81 लोगों की मौत, दिल्ली महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित

आयोग ने बताया कि 2,788 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है और 23,214 लोगों के वायरस से संक्रमित होने की आशंका है. चीन में सोमवार तक इसके कुल 20,438 मामले सामने आए थे और मृतक संख्या 425 पर पहुंच गई थी. इसी अमेरिका में इस कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 11 हो गई. अमेरिका में कोरोना वायरस के मामले सामने और अमेरिका की ओर इस बीमारी को लेकर की गई बयान बाजी से चीन चिढ़ा हुआ है. लेकिन अब चीन के विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि अमेरिका को तर्कसंगत विचार रखना चाहिए और अगर वह इस बीमारी से लड़ने में सहयोग करना चाहता है तो जल्द ही ऐसा करेगा. Also Read - Covid-19 Symptoms: कोरोना की दूसरी लहर में सामने आने वाले नए लक्षण क्या हैं? Watch Video

सरकारी समाचार एजेंसी ‘शिन्हुआ’ की खबर के अनुसार कुल 632 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. गौरतलब है कि फिलिपीन और हांगकांग में भी इससे एक-एक व्यक्ति की जान जा चुकी है. भारत के केरल में इसके तीन मामले सामने आए हैं. Also Read - No Lockdown In Gurugram: लॉकडाउन की आशंका के बीच गुरुग्राम से बड़ी संख्या में मजदूरों का पलायन

कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं. इसके सामान्य प्रभावों के चलते सर्दी-जुकाम होता है लेकिन ‘सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम’ (सार्स) ऐसा कोरोनावायरस है जिसके प्रकोप से 2002-03 में चीन और हांगकांग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई थी.