बीजिंग: चीन में घातक कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बुधवार को 1,110 हो गई और इसके अभी तक 44,200 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. हुबेई के स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि हुबेई प्रांत में इससे 94 और लोगों की जान चली गई, जहां इस विषाणु के कारण अब तक सबसे अधिक लोग मारे गए हैं. उसने बताया कि इसके 1,638 नए मामले भी सामने आए है और चीन में अभी तक इसके 44,200 से अधिक मामलों की पुष्टि हो चुकी है. Also Read - RLD Chief Ajit Singh Death: चौधरी चरण सिंह के बेटे अजित सिंह की कोरोना से मौत, अस्पताल में थे भर्ती

ऐसा माना जा रहा है कि यह वायरस पिछले साल हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान के उस बाजार से फैला था, जहां जंगली जानवर बेचे जाते हैं. वहीं डब्ल्यूएचओ के प्रमुख तेदरोस अदहानोम गेब्रेयसेस ने मंगलवार को कहा था कि हालांकि इसके 99 प्रतिशत मामले चीन में है लेकिन यह पूरे विश्व के लिए एक बड़ा खतरा है. उन्होंने सभी देशों से इस संबंध में किए किसी भी शोध की जानकारी साझा करने की अपील भी की थी. Also Read - Corona in Maharashtra: महाराष्ट्र में कोरोना का तांडव, मरने वालों और संक्रमितों की संख्या में फिर बढ़ोतरी, जानें नए आंकड़े

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूचओ) के अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों की एक टीम ब्रुस एलवर्ड (आपात स्वास्थ्य स्थितियों के दिग्गज) के नेतृत्व में सोमवार रात यहां पहुंची थी. टीम ने मंगलवार को कोरोना वायरस के प्रकोप से निपटने को लेकर चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ चर्चा शुरू की. चीन अधिकारियों ने मंगलवार को हुबेई से दो वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारियों को बर्खास्त कर उसकी राजधानी वुहान में प्रतिबंध कड़े कर दिए थे. वहां पहले से ही करोड़ों लोग प्रतिबंधों के दायरे में है. Also Read - Coronavirus: क्या जानवरों से भी फैलता है कोरोना वायरस? सरकार ने क्या दी लेटेस्ट जानकारी