Coronavirus In World Update: कोरोना वायरस लगभग पूरी दुनिया को अपनी गिरफ्त में ले चुका है. दक्षिण कोरिया में कई हफ्तों की राहत के बाद बुधवार को संक्रमण के सर्वाधिक मामले सामने आए, वहीं भारत में लगातार कई दिन से रिकॉर्ड संख्या में मामले सामने आने का सिलसिला जारी रहा, जहां एक दिन में 6,000 से अधिक नए मामलों का पता चला. Also Read - Bengaluru Lockdown: बेंगलुरू में 14-23 जुलाई तक लागू हुआ लॉकडाउन, सिर्फ इन्हें होगी आने-जाने की इजाजत

कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बंद किए व्यवसायों को शुरू कर अर्थव्यवस्थाओं को फिर से खोलने का वॉल स्ट्रीट पर जहां सकारात्मक असर नजर आया वहीं दूसरी ओर अमेरिका में संक्रमण के कारण मृतक संख्या एक लाख के आंकड़े को छू रही है. Also Read - Lockdown Extended: गुवाहाटी में बढ़ाई गई लॉकडाउन की अवधि, अब 19 जुलाई तक चलेगी तालाबंदी

अमेरिका महाद्वीप के ज्यादातर हिस्से में कोरोना वायरस का अब भी बहुत प्रकोप है जबकि कई एशियाई और यूरोपीय देश सदी की सबसे भयावह वैश्विक महामारी पर काबू पाने की दिशा में धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं. Also Read - COVID 19 के हालात पर पीएम नरेंद्र मोदी ने की बैठक, बोले- हर राज्य को अपनाना चाहिए दिल्ली मॉडल

साइप्रस ने बुधवार को घोषणा की कि वह नौ जून से पर्यटकों का स्वागत करने को तैयार है और उसके यहां आने वाले कोरोना वायरस से संक्रमित हर व्यक्ति और उसके परिजनों के रहने, खाने-पीने और दवा संबंधी हर खर्च वह उठाएगा. यह जानकारी उसने सभी सरकारों, एयरलाइंस और टूर संचालकों को भेज दी है.

हालांकि इसके लिए स्वास्थ्य और साफ-सफाई संबंधी सख्त नियमों पालन करना और यात्रा पर रवाना होने से तीन दिन पहले कोविड-19 की अनिवार्य जांच करवाना शामिल है.

साइप्रस में संक्रमण के करीब 940 मामले हैं और 20 से भी कम लोगों की मौत हुई है.

न्यूजीलैंड ने कहा कि देश के अस्पतालों में कोरोना वायरस का कोई मरीज भर्ती नहीं है. हालांकि यहां अब भी विदेशों से आने वालों पर पाबंदी है। यहां 1,504 पुष्ट और संभावित मामले हैं, 21 लोगों की मौत हुई है तथा इतनी ही संख्या में संक्रमित लोगों का इलाज चल रहा है.

दक्षिण कोरिया में करीब 50 दिन के बाद 40 नए मामले सामने आए. यह चिंता का विषय है क्योंकि देश में स्कूल शुरू हो चुके हैं. इन नए मामलों में से चार घनी आबादी वाले सियोल क्षेत्र से हैं.

दक्षिण कोरिया में 269 लोगों की मौत हुई है तथा संक्रमण के कुल 11,265 मामले सामने आए हैं.

उत्तरी अमेरिका महाद्वीप के मैक्सिको से लेकर दक्षिण अमेरिका महाद्वीप के चिली तक कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं और अस्पताल संक्रमण के मरीजों से भरे हैं.

मैक्सिको में कोरोना वायरस से मंगलवार को 501 लोगों की मौत हुई और संक्रमण के 3,455 नए मामले आए. यहां हर रोज करीब 620 लोगों की मौत हो रही है. ब्राजील में प्रतिदिन मौत का आंकड़ा 800 है.

चिली में अधिकारियों ने कहा कि गहन चिकित्सा इकाईयों में जगह नहीं के बराबर है जबकि रोज करीब 4,000 नए मामले सामने आ रहे हैं.

जॉन हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के आंकड़ों के मुताबिक दुनियाभर में कोरोना वायरस से करीब 56 लाख लोग पीड़ित हैं और 3,50,000 लोगों की मौत हो चुकी है.

यूरोप में संक्रमण से 1,70,000 लोगों की मौत हो चुकी है और अमेरिका में चार महीने से भी कम वक्त में 98,900 से अधिक लोग जान गंवा चुके हैं.

विशेषज्ञों का कहना है कि मौत का आंकड़ा इससे कहीं अधिक हो सकता है क्योंकि वायरस के कारण मरने वाले बड़ी संख्या में पीड़ितों की कोरोना वायरस जांच ही नहीं हुई.

नेवादा के गवर्नर ने भी पर्यटकों को लुभाने के लिए मंगलवार घोषणा की कि चार जून से कैसीनो खोले जा सकेंगे, इन्हें दस हफ्ते पहले बंद किया गया था. न्यूयॉर्क के गवर्नर ने भी संकेत दिए हैं कि अब समय अर्थव्यवस्था पर ध्यान देने का है.
(एजेंसी से इनपुट)