नई दिल्ली: चीन में विकसित होने वाले कोरोनावायरस के टीके नवंबर महीने की शुरुआत में ही आम जनता के लिए जारी कर दिए जाएंगे. चीनी रोग नियंत्रण और रोकथाम (CDC) के एक अधिकारी ने कहा कि चीन के पास परीक्षण पास करके अंतिम चरण में पहुंचने वाले कुल वैक्सीन हैं. इनमें से तीन वैक्सीन को जुलाई महीने से ही आवश्यक श्रमिकों को आपातकालीन उपयोग कार्यक्रम के तहत वैक्सीन दिया जा चुका है. Also Read - सलमान खान ने बताया, लॉकडाउन क्‍यों 'तनावपूर्ण' रहा, 30 सालों में भी इतनी छुट्टियां कभी नहीं मनाईं

वैक्सीन के तीसरे चरण का परीक्षण सुचारू रूप से आगे बढ़ रहा है. ऐसे में नवंबर या दिसंबर महीने में वैक्सीन को आम जनता के लिए तैयार कर दिया जाएगा. सीडीसी के प्रमुख जैव सुरक्षा विशेषज्ञ गुइजेन वू ने एक इंटरव्यू में कहा कि अप्रैल महीने में उन्होंने खुद भी वैक्सीन लिया था. लेकिन इसके बाद किसी प्रखार के असमान्य लक्ष्णों का अनुभव नहीं हुआ. हालांकि यह उन्होंने नहीं बताया कि उन्होंने किस वैक्सीन का इस्तेमाल किया था. Also Read - Brucellosis Precautions: चीन में नए वायरस का हमला, अब ब्रूसीलोसिस मचा रहा तहलका, जानें भारत में इससे बचने के क्या हैं उपाय

चीन की दिग्गज फार्मास्युटिकल कंपनी चीन नेशनल फार्मास्युटिक ग्रुप (Sinopharm) और अमेरिकी कंपनी सिनेवैक बायोटेक (Sinivac Biotech) द्वारा अपातकाली अपयोग कार्यक्रम के तहत तीन टीकों का मिलकर विकास किया जा रहा है. वहीं चौथे टीके को कैनसिनो बायोलॉजिक्स (Cansino Biologics) 6185.HK द्वारा विकसित किया गया है. इसी वैक्सीन को चीन में सेना के जवानों को दिया गया है. Also Read - Covid 19 Update: देश में 57 लाख के पार पहुंची संक्रमितों की संख्या, कोरोना के आंकड़ों में अब होने लगी गिरावट

सिमोफार्मा ने इस बाबत जुलाई महीने में कहा कि था कि इस टीके के 3 चरणों के सफल ट्रायल के समापन के बाद इसी साल के अंत में सार्वजनिक प्रयोग के लिए वैक्सीन को तैयार कर दिया जाएगा. बता दें कि पूरी दुनिया भर के वैज्ञानिक वैक्सीन की खोज के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं. क्योंकि महामारी से अब तक पूरी दुनिया में करोड़ों लोग प्रभावित हो चुके हैं. वहीं लाखों लोगों की मौत हो चुकी है.