बीजिंग: अमेरिका के चीन के उत्पादों पर नए शुल्क लगाने की घोषणा के बाद चीन ने आज कहा कि ‘जवाबी’ कार्रवाई करते हुए लगाया गया आयात शुल्क विश्व की दो प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के बीच व्यापार को तबाह कर देगा.Also Read - आर्मी ने चीन की हरकत पर नजर रखने LAC पर इजराइली ड्रोन Heron Mark-I UAV से बढ़ाई निगरानी

Also Read - सेला सुरंग: आखिरी चरण आज से होगा शुरू, तवांग से चीन सीमा तक 10 किमी घटेगी दूरी

ट्रंप ट्विटर पर सबसे ज्यादा फॉलोअर वाले विश्वनेता, पीएम मोदी तीसरे नंबर पर Also Read - उपराष्ट्रपति नायडू के अरुणाचल दौरे पर चीन ने जताई आपत्ति तो भारत ने दिया ये दो टूक जवाब

अमेरिका ने आज चीन के 200 अरब डॉलर के उत्पादों पर 10 प्रतिशत शुल्क लगाने की प्रक्रिया सितंबर तक शुरू करने की घोषणा की. इससे पहले शुक्रवार को भी अमेरिका ने चीन के 34 अरब डॉलर के उत्पादों पर 25 फीसदी शुल्क लगाया था. चीन के सहायक वाणिज्य मंत्री ली चेंगगांग ने यहां एक मंच पर कहा कि चीन और अमेरिका ने एक दूसरे पर वृहद पैमाने पर जो शुल्क लगाएं हैं. वह चीन-अमेरिका के व्यापार को तबाह कर देगें.

दो आर्थिक शक्तियों के बीच व्यापार युद्ध

उन्होंने आरोप लगाया कि अमेरिकी नीति वास्तव में आर्थिक वैश्वीकरण की प्रक्रिया में बाधा डालती है और विश्व के आर्थिक क्रम को बिगाड़ती है. इस पूरी व्यवस्था के बीच विशेषज्ञों ने आगाह किया कि विश्व की दो आर्थिक शक्तियों के बीच लगातार बढ़ रहे व्यापार युद्ध का वैश्विक अर्थव्यवस्था पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है. ली ने इस स्थिति को अंतरराष्ट्रीय व्यापार के लिए अराजकता का समय बताया. (इनपुट एजेंसी)