फ्रैंकफर्ट एम मेन: कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हो रहे आर्थिक नुकसान की भरपाई को लेकर ‘‘बेहद चिंतित’’ जर्मनी के हेसे राज्य के वित्त मंत्री थॉमस शाएफर ने कथित रूप से आत्महत्या कर ली. शाएफर (54) शनिवार को रेल पटरी पर मृत मिले थे. वीसबैडेन अभियोजक के कार्यालय ने मंत्री द्वारा आत्महत्या किए जाने की आशंका जताई है. Also Read - कोरोना के नए प्रकार के कारण वैश्विक स्तर पर संक्रमण के बढ़े मामले, जानिए इसके पीछे की वजह

हेसे के मुख्यमंत्री वॉल्कर बॉफियर ने एक बयान में कहा, ‘‘हम स्तब्ध हैं. हमें विश्वास नहीं हो रहा और हम अत्यंत दु:खी हैं.’’ हेसे में जर्मनी की वित्तीय राजधानी फ्रैंकफर्ट है जहां ड्यूश बैंक और कॉमर्जबैंक का मुख्यालय है. यूरोपीयन सेंट्रल बैंक भी फ्रैंकफर्ट में ही है. Also Read - दिल्ली में कोरोना के 2,505 नए मामले सामने आए, 10 लाख की आबादी पर किए जा रहे 32,650 टेस्ट

राज्य के वित्त मंत्री की मौत की खबर से बेहद दु:खी नजर आ रहे बॉफियर ने कहा कि शाएफर इस महामारी के कारण पैदा हुए आर्थिक संकट से उबरने में कंपनियों एवं कर्मियों की मदद करने के लिए ‘‘दिन-रात’’ काम कर रहे थे. Also Read - चीन की बढ़ेंगी मुश्किलें! कहां से निकला कोरोना वायरस? जांच के लिए अगले हफ्ते चाइना जाएगी डब्ल्यूएचओ की टीम

चांसलर एंजेला मार्केल के निकट सहयोगी बॉफियर ने कहा, ‘‘आज हमें यह मानना होगा कि वह बेहद चिंतित थे. विशेषकर इस मुश्किल समय में हमें उनके जैसे ही व्यक्ति की आवश्यकता थी.’’ शाएफर के परिवार में पत्नी और दो बच्चे हैं.

(इनपुट भाषा)