नई दिल्ली: कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले रखा है. ऐसे में दुनियाभर के वैज्ञानिक वैक्सीन निर्माण और रिसर्च में लगे हुए हैं. इसी बीच उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही खुशखबरी मिल सकती है. ब्रिटेन से राहतभरी खबर सामने आई है. यहां अस्पतालों को अगले महीने वैक्सीन के टीकाकरण के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक यहां अस्पतालों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने स्टाफ को तैयार रखें, क्योंकि जल्द ही ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा निर्मित वैक्सीन की पहली खेंप उन्हें दी जाएगी. Also Read - Delhi Schools Not to Open: दिल्ली में फिलहाल नहीं खुलेंगे स्‍कूल, सरकार ने बताई ये बड़ी वजह

ब्रिटेन के अखबार द सन के मुताबिक अस्पतालों को 2 नवंबर के बाद से तैयार रहने को कहा गया है. 2 नवंबर से शुरू हो रहे सप्ताह से वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी. बता दें कि ऑक्सफोर्ट विश्वविद्यालय की यह वैक्सीन काफी सफल मानी जा रही है, ऐसे में अगर इसका इस्तेमाल शुरू हो जाता है तो यह कोरोना के खात्मे में अहम रोल प्ले कर सकता है. बता दें कि इस वैक्सीन के प्रभावी नतीजे भी सामने आ चुके हैं. Also Read - Delhi NCR New Rules: दिल्ली से आने वाले यात्रियों के लिए लागू हुए ये नियम, स्थानीय प्रशासन का बड़ा फैसला

इस वैक्सीन को AZD1222 or ChAdOx1 nCoV-19 नाम दिया गया है. इस वैक्सीन को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका मिलकर एक साथ तैयार कर रही है. वहीं भारत में इस वैक्सीन के उत्पादन की जिम्मेदारी SEERUM Institute, Pune को दिया गया है. अखबार की मानें तो सबसे पहले उन लोगों का टीकाकरण किया जाएगा जो खतरे का सामना करन रहे हैं. Also Read - Corona Vaccine: वैक्सीन Sputink V को लेकर आई खुशखबरी, जनवरी में शुरू होगी डिलीवरी, इतना होगा दाम

वहीं अन्य एक खबर की मानें तो बुजुर्गों में वैक्सीन का अच्छा असर देखने को मिला है. गौरतलब है कि ब्रिटेन में अबतक लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं बीते दिनों ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी कोरोना संक्रमित पाए गए थे. बता दें कि दुनिया में अमेरिका के बाद भारत कोरोना से त्रस्त देशों में दूसरे स्थान पर है. ऐसे में भारत के लिए यह खबर बेहद अहम है क्योंकि बड़े पैमाने पर वैक्सीन के उत्पादन का काम सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया को दिया गया है.