नई दिल्ली: पूरी दुनिया बेसब्री से कोविड-19 का वैक्सीन बनने का इंतजार कर रही है. वर्तमान में 175 से अधिक वैक्सीन उम्मीदवार विकास के विभिन्न चरणों में हैं. रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने हाल ही में दुनिया की पहली अप्रूव की गई कोविड -19 वैक्सीन ‘स्पुतनिक-V’ की घोषणा की थी और अपनी एक बेटी को टीका लगवाते हुए कहा कि यह “सुरक्षित” है. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी की रूस ने एक और वैक्सीन तैयार कर ली है. Also Read - टीका बनाने वाली कंपनी ने पूछा सवाल- क्या कोरोना वैक्सीन के लिए 80,000 करोड़ रुपये का इंतजाम कर पाएगी भारत सरकार?

तमाम मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रूस की दूसरी कोरोना वैक्सीन को लेकर अगले महीने यानि सितंबर तक बड़ी खबर आ सकती है. रूस की ये दूसरी वैक्सीन रूस के वेक्टर स्टेट रिसर्च सेंटर ऑफ वायरोलॉजी एंड बायोटेक्नोलॉजी द्वारा विकसित की गई है. इसका नाम EpiVacCorona बताया जा रहा है. इसकी खास बात ये रही कि यह कोरोना वैक्सीन मनुष्यों में शुरुआती परीक्षणों में काफी सुरक्षित बताई जा रही है. Also Read - राहत! महाराष्ट्र में कोरोना के 18,390 नए मामले सामने आए, 392 की मौत; 20,206 मरीज हुए ठीक

इससे पहले रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने घोषणा की थी कि उनके देश ने कोविड-19 का दुनिया का पहला टीका बना लिया है जो “काफी प्रभावी” तरीके से काम करता है और इस बीमारी के खिलाफ “स्थिर प्रतिरक्षा” देता है. हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) को लगता है कि वैक्सीन को कठोर सुरक्षा समीक्षा की आवश्यकता थी. Also Read - भारत में 10 लाख की आबादी पर कोरोना के 4000 मामले और 64 मौतें, देश का रिकवरी रेट 80 प्रतिशत से अधिक